जानिए राकेश टिकैत ने आखिर क्यों कहा भोपाल को भी दिल्ली जैसे घेरेंगे

Rakesh Tikait
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि देश के सभी राज्यों की राजधानी को दिल्ली बनाना होगा। किसानों के हितों की लड़ाई अब राज्यों की राजधानी में भी लड़ी जाएगी। इसके लिए सभी किसानों को तैयार रहना होगा। किसान नेता ने कहा कि तेलंगाना राज्य की कृषि नीति आदर्श है।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने मध्य प्रदेश के किसानों को तैयार रहने की हिदायत दी। उन्होंने कहा कि किसानों के हक की लड़ाई के लिए भोपाल को दिल्ली बनाना पड़ेगा। मध्य प्रदेश के किसान तैयार रहें। किसान नेता राकेश टिकैत ने मध्य प्रदेश के किसानों को तैयार रहने को कहा है। 

इसे भी पढ़ें: चावल खरीद के मुद्दे पर KCR का दिल्ली में हल्ला बोल, मंच पर साथ दिखे किसान नेता राकेश टिकैत 

मध्य प्रदेश के किसानों का आह्नान करते हुए राकेश टिकैत ने कहा कि वे आंदोलन के लिए तैयार रहें। भोपाल को दिल्ली बनाना होगा। टिकैत नर्मदापुरम के सिवनी मालवा में कुछ देर के लिए रुके थे और वहां मीडिया से चर्चा में यह चेतावनी दी है। टिकैत ने कहा कि देश के सभी राज्यों की राजधानी को दिल्ली बनाना होगा। किसानों के हितों की लड़ाई अब राज्यों की राजधानी में भी लड़ी जाएगी। इसके लिए सभी किसानों को तैयार रहना होगा।

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि तेलंगाना राज्य की कृषि नीति आदर्श है। वहां किसानों को प्रति एकड़ दस हजार रुपए दिए जाते हैं जिससे वे खाद-बीज की खरीदी आसानी से कर सकते हैं। किसानों को वहां बिजली भी फ्री दी जा रही है। ऐसी किसान हितेषी बातें सभी राज्य सरकारों को करना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: किसान नेता राकेश टिकैत को मिली जान से मारने की धमकी, अपशब्द भी कहे गए, शिकायत दर्ज 

टिकैत ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और कृषि मंत्री कमल पटेल को लेकर कहा कि ये लोग किसानों की बातें करते हैं। भोपाल के किसानों को राकेश टिकैत ने कहा कि जब दिल्ली में किसान आंदोलन हो तो यहां वे भागीदारी करें और जागरूक रहें। कभी भी भोपाल को घेरना पड़ सकता है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़