महिला दिवस पर बोलीं शैलजा, महिला आरक्षण विधेयक पर BJP अब ख़ामोश क्यों है?

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 8 2019 3:19PM
महिला दिवस पर बोलीं शैलजा, महिला आरक्षण विधेयक पर BJP अब ख़ामोश क्यों है?
Image Source: Google

कांग्रेस की सरकारों ने ऐसे कई कदम उठाए जिनसे देश की अनगिनत महिलाओं को मौका मिला। इनमें बहुत सारी महिलाओं हैं जिनका सशक्तिकरण हुआ।’’

नयी दिल्ली। कांग्रेस की वरिष्ठ नेता कुमारी शैलजा ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले पांच वर्षों में महिलाओं के मुद्दे पर सिर्फ भाषण दिए, लेकिन महिला आरक्षण जैसे महत्वपूर्ण विषय पर कुछ नहीं किया। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर कांग्रेस के अनुसूचित जाति विभाग द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में शैलजा ने यह भी कहा कि महिलाओं और खासकर दलित महिलाओं के सशक्तीकरण में कांग्रेस जो प्रयास किए हैं, उसकी कोई तुलना नहीं है।

इसे भी पढ़ें: मोदी ने देशवासियों को बताया अपना परिवार, कहा- पाई-पाई जनता पर खर्च होगा

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि अछूत की प्रथा के खिलाफ कांग्रेस ने सबसे पहले प्रस्ताव पारित किया था। राजीव गांधी की वजह से पंचायत में महिलाओं की समुचित भागीदारी सुनिश्चित हुई। कांग्रेस की सरकारों ने ऐसे कई कदम उठाए जिनसे देश की अनगिनत महिलाओं को मौका मिला। इनमें बहुत सारी महिलाओं हैं जिनका सशक्तिकरण हुआ।’’

इसे भी पढ़ें: नयी दिल्ली से गौतम गंभीर, चांदनी चौक से विजय गोयल BJP टिकट की दौड़ में आगे



उन्होंने कहा, ‘‘संप्रग की सरकार ने महिला आरक्षण विधेयक राज्यसभा में पारित किया। सोनिया गांधी जी के निर्देश पर यह किया गया। मोदी जी की सरकार ने पांच वर्षों में इस बारे में कुछ नहीं किया।’’शैलजा ने यह भी दावा किया कि मोदी सरकार में दलितों और दलित महिलाओं पर अत्याचार बढ़े हैं। लेकिन यह सरकार मूल प्रश्नों पर जवाब देने की बजाय ध्यान भटकाने की कोशिश करती है। 
दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में महिलााओं के योगदान की सराहना करते हुए कहा कि कांग्रेस ने हमेशा महिलाओं को आगे बढ़ाया है और कोई दूसरी ऐसी पार्टी नहीं है जिसने महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए इतना काम किया हो।
 
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video