Bihar MLC चुनाव: NDA में हो गया टिकट बंटवारा, मांझी-सहनी को नहीं मिली जगह, पारस को मिली वैशाली सीट

Bihar MLC elections
अभिनय आकाश । Jan 29, 2022 7:42PM
एनडीए के सीटों के बंटवारे में मुकेश सहनी की वीआईपी और जीतन राम मांझी की हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा को जगल नहीं मिली है। लेकिन पशुपति कुमार पारस की पार्टी राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी को एक सीट जरूर मिली है।

बिहार विधान परिषद की 24 सीटों के लिए होने वाले चुनाव के लिए बीजेपी और जेडीयू के बीच सीटों का बंटवारा हो गया है। ये बात तय हो गई है कि कौन सी सीट कौन सी पार्टी लड़ेगी। बीजेपी और जेडीयू की संयुक्त प्रेस कॉनफ्रेंस में भूपेंद्र यादव, संजय जायसवाल, तारकिशोर प्रसाद, विजय कुमार चौधरी और उमेश कुशवाहा शामिल रहे। एनडीए के सीटों के बंटवारे में मुकेश सहनी की वीआईपी और जीतन राम मांझी की हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा को जगल नहीं मिली है। लेकिन पशुपति कुमार पारस की पार्टी राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी को एक सीट जरूर मिली है। पशुपति पारस वैशाली की सीट की मांग कर रहे थे और बीजेपी ने अपने खाते से एक सीट रालोजपा को दे दी है। 

सीटों पर सहमति बनी 

बिहार के भाजपा प्रभारी भूपेंद्र यादव की ओर से प्रेस कॉनफ्रेंस में कहा गया कि बिहार एमएलसी चुनाव में जनता दल यूनाइटेड (जदयू) 11 सीटों पर, भाजपा 13 सीटों पर और अपने कोटे से आरएलजेपी (पशुपति पारस) को एक सीट देगी। बता दें कि पिछले कई दिनों से जेडीयू विधान परिषद चुनाव के सीट बंटवारे में 50-50 फॉर्मूले को अपनाने की बात कर रही है, जबकि बीजेपी 13-11 के अनुपात में सीट बंटवारे की बात करती रही है।

इसे भी पढ़ें: आरआरबी-एनटीपीसी परीक्षा प्रक्रिया विरोधः छात्र संगठनों के बिहार बंद के समर्थन में विपक्षी दल सडकों पर उतरे, बंद से जनजीवन प्रभावित

नीतीश-भूपेंद्र यादव के बीच चला लंबा मंथन 

सीएम आवास पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और बिहार बीजेपी प्रभारी भूपेंद्र यादव के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर बैठक हुई। इस बैठक में डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल भी मौजूद रहे। बताया जा रहा है कि नीतीश कुमार से मुलाकात करने पहुंचे बीजेपी के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव के बीच इस मुद्दे को लेकर लगभग एक घंटे तक विचार किया गया। इसके बाद दोनों पार्टियों की तरफ से सहमति बनी है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़