किसानों के लिए कांग्रेस और मोदी सरकार ने क्या-क्या किया ? भाजपा ने राहुल गांधी को दी खुली बहस की चुनौती

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 24, 2020   20:30
किसानों के लिए कांग्रेस और मोदी सरकार ने क्या-क्या किया ? भाजपा ने राहुल गांधी को दी खुली बहस की चुनौती

भाजपा नेता ने उल्लेख किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शुक्रवार को नौ करोड़ किसानों के खाते में 18,000 करोड़ रुपये हस्तांतरित करेंगे जिसके साथ किसानों के खाते में अब तक सीधे जमा की गई राशि 1.20 लाख करोड़ रुपये हो जाएगी।

नयी दिल्ली। भाजपा ने केंद्र पर राहुल गांधी के आरोपों को बृहस्पतिवार को ‘‘निराधार और तर्कहीन’’ करार देते हुए उन्हें चुनौती दी कि वह इस बारे में खुली बहस कर लें कि कांग्रेस ने सत्ता में रहने के दौरान किसानों के लिए क्या किया और मोदी सरकार ने क्या किया है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि उसने किसानों के हितों की अनदेखी की तथा अनाज के सस्ते दाम सुनिश्चित कर उन्हें गरीब बनाए रखने का काम किया, लेकिन मोदी सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य के माध्यम से किसानों को उचित दाम उपलब्ध कराने के लिए स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को क्रियान्वित कर उन्हें सशक्त बनाया है। 

इसे भी पढ़ें: नए कृषि कानूनों में कई संशोधनों की जरूरत, किसानों से ठोस सुझाव देने का किया आग्रहः दुष्यंत चौटाला 

भाजपा नेता ने उल्लेख किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शुक्रवार को नौ करोड़ किसानों के खाते में 18,000 करोड़ रुपये हस्तांतरित करेंगे जिसके साथ किसानों के खाते में अब तक सीधे जमा की गई राशि 1.20 लाख करोड़ रुपये हो जाएगी। उन्होंने कहा, ‘‘यह महज शुरुआत है। यह दस साल तक जारी रहेगी और योजना सात लाख करोड़ रुपये की है।’’ जावड़ेकर ने कहा कि इसके विपरीत कांग्रेस जब सत्ता में थी तो उसने किसानों का केवल 53,000करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया और यह धन किसानों को नहीं दिया गया, बल्कि उनके कर्ज के रूप में बैंकों को दिया गया। 

इसे भी पढ़ें: पांच दौर की वार्ता का नहीं निकला कोई नतीजा ! सरकार ने किसान यूनियनों को फिर किया आमंत्रित 

उन्होंने कहा कि मैं कांग्रेस और राहुल गांधी को खुली बहस की चुनौती देता हूं। मैं साबित कर दूंगा कि कांग्रेस ने किस तरह हमेशा किसानों के हितों की अनदेखी की और किस तरह मोदी ने उन्हें सशक्त किया। किसानों ने अपने उत्पाद के लिए हमेशा उचित मूल्य की मांग की, लेकिन कांग्रेस ने यह कभी पूरी नहीं की।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।