पूर्व मंत्री राजभर का आरोप, भाजपा किसानों की नहीं बल्कि अडानी और अंबानी की चौकीदारी कर रही है

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 25, 2020   13:13
पूर्व मंत्री राजभर का आरोप, भाजपा किसानों की नहीं बल्कि अडानी और अंबानी की चौकीदारी कर रही है

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने आरोप लगाया कि ‘’भारतीय जनता पार्टी झूठों की पार्टी है और वह किसानों की नहीं बल्कि अडानी और अंबानी की चौकीदारी कर रही है।’’

बलिया (उप्र)। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने आरोप लगाया कि ‘’भारतीय जनता पार्टी झूठों की पार्टी है और वह किसानों की नहीं बल्कि अडानी और अंबानी की चौकीदारी कर रही है।’’ बलिया जिले के सिकंदरपुर क्षेत्र में बृहस्पतिवार को पार्टी के एक कार्यक्रम में शामिल होने आए राजभर ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘’हम कोरोना को नहीं मानते हैं। सर्दी या खांसी ये बहुत पुरानी बीमारी है। जब कोविड-19 की दवाई बनी नहीं तो 98फीसदी रोगी कैसे ठीक हो जा रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा गरीबों, कमजोर, पिछड़े ,दलित और अल्पसंख्यक को कोविड के नाम पर गरीब बनाने की कवायद कर रही है।’’ उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा, ‘’गृह मंत्री के पश्चिम बंगाल की रैली को देख लीजिए। रैली में कहीं कोई मास्क पहनते दिखाई नहीं दिया।

इसे भी पढ़ें: दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी, जांच बढ़ायी गयी

बिहार विधानसभा चुनाव और उत्तर प्रदेश के विधानसभा उप चुनाव में भी यही दृश्य दिखाई दिया।’’ उन्होंने कहा कि चुनाव के समय कोरोना नहीं है और चुनाव खत्म होते ही कोरोना की चर्चा शुरू हो जाती है। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के एआईएमआईएम के साथ गठबंधन और उत्तर प्रदेश को पाकिस्तान बनाने के आरोप पर उन्होंने कहा, ‘‘आज ओमप्रकाश राजभर के साथ ओवैसी आ गए हैं तो सारी पार्टियां बौखलाई हुई हैं, क्योंकि 22 फीसदी वोट ओवैसी का है और आठ फीसदी वोट पूर्वांचल में ओमप्रकाश राजभर का है। हमारे साथ भागीदार संकल्प मोर्चा है, जिसका वोट 43 फीसदी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।