• 3 साल बाद हुई कार्यसमिति बैठक पर बोले बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष, तीन प्रस्ताव हुए पारित

सुयश भट्ट Jun 24, 2021 21:10

प्रदेश अध्यक्ष ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कार्यसमिति की बैठक में तीन प्रस्ताव पारित किए गए। इनमें से एक शोक प्रस्ताव था, जो दिवंगत पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं और समाजजनों के लिए था। प्रदेश की वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियों पर एक राजनीतिक प्रस्ताव पारित किया गया। इसके अलावा कोविड-19 को लेकर भी एक प्रस्ताव पारित किया गया।

भोपाल। मध्यप्रदेश बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि पार्टी संगठन आदर्श संगठन है। इसे और आगे किस तरह बढ़ाया जाए, कार्यसमिति की बैठक में इस बात पर विचार हुआ। संगठन की मजबूती के लिए हमने तय किया है कि हमारे मंडल स्वाबलंबी बनें तथा बूथ अधिक सक्रियता से काम करें, इसे लेकर भी चर्चा हुई और पार्टी नेताओं ने इस बात पर भी अपने विचार प्रस्तुत किए कि कार्यसमिति सदस्य इस काम में किस तरह अपनी भूमिका का निर्वाह कर सकते हैं। प्रत्येक कार्यकर्ता के लिए काम हो और प्रत्येक काम के लिए कार्यकर्ता तैयार रहे, इसकी योजना बनाने पर भी चर्चा की गई। संगठन तंत्र की मजबूती और कार्यकर्ता को सक्षम बनाने के लिए ई-प्रशिक्षण चल रहा है। 26 तारीख से जिला स्तर के प्रशिक्षण शुरू होंगे। इसे प्रभावी बनाने पर भी विचार हुआ। आने वाले दिनों में पार्टी के कार्यकर्ता केन्द्र और प्रदेश सरकार की योजनाओं का हितलाभ सुनिश्चित कराने की दिशा में एक वॉलिंटियर की तरह काम करेंगे, जिससे कोई भी जरूरतमंद सरकार की योजनाओं से वंचित नहीं रहे। कार्यसमिति की यह पहली बैठक कई मायनों में ऐतिहासिक रही। पहली बार कार्यसमिति की बैठक का आयोजन सेमी वर्चुअल तरीके से किया गया। इस कार्यसमिति में कोविड गाइडलाइन के तहत निर्धारित संख्या में भोपाल में प्रतिनिधि उपस्थित रहे। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दिल्ली से कार्यसमिति का उदघाटन किया। प्रदेश के सभी 57 जिलों से कार्यसमिति सदस्य वर्चुअल तरीके से बैठक में शामिल हुए। शर्मा ने कहा कि बैठक के लिए जिस तरह की तैयारियां की गई थीं और जैसा उत्साह प्रदेश कार्यालय में दिखाई दे रहा था, उसी तरह का वातावरण सभी जिलों में भी था। शर्मा ने कहा कि पं. दीनदयाल जी ने कहा था कि जो संगठन, समाज या संस्था समयानुकूल बदलाव नहीं करते, वो समाप्त हो जाते हैं।

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में जल्द खुल सकते हैं स्कूल, सरकार कर रही मंथन

उन्होंने कहा कि बैठक को राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी.नड्डा ने संबोधित किया। उन्होंने कोरोना नियंत्रण के काम में, सेवा ही संगठन अभियान में, वैक्सीनेशन के अभियान में मध्यप्रदेश में जिस तरह के काम हुए हैं, उसके लिए प्रदेश सरकार और प्रदेश के भाजपा संगठन की सराहना की। उन्होंने विस्तार से बताया कि मध्यप्रदेश किस तरह से राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना रहा है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड बनाने पर प्रदेश की जनता, सरकार और संगठन को शुभकामनाएं दी हैं। उनकी प्रशंसा से हमारा मनोबल और बढ़ा है। प्रदेश अध्यक्ष ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कार्यसमिति की बैठक में तीन प्रस्ताव पारित किए गए। इनमें से एक शोक प्रस्ताव था, जो दिवंगत पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं और समाजजनों के लिए था। प्रदेश की वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियों पर एक राजनीतिक प्रस्ताव पारित किया गया। इसके अलावा कोविड-19 को लेकर भी एक प्रस्ताव पारित किया गया। वैक्सीनशन पर आपत्ति उठाने वाली कांग्रेस पार्टी को लेकर वीडी शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश ने जब वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड बनाया, तो कुछ लोगों के पेट में दर्द होने लगा। ये वैक्सीनेशन पर सवाल उठाने लगे। पहले ये देश के खिलाफ काम कर रहे थे, अब मानवीयता पर प्रहार कर रहे हैं। ऐसे झूठ बोलने वालों, अराजकतावादियों, देश विरोधियों के साथ खड़े होने वालों को जवाब देने का काम हमारे कार्यकर्ता करेंगे।