छगन भुजबल, जयंत पाटिल और कांग्रेस के थोराट ले सकते हैं मंत्री पद की शपथ

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2019   11:51
छगन भुजबल, जयंत पाटिल और कांग्रेस के थोराट ले सकते हैं मंत्री पद की शपथ

राकांपा के एक सूत्र ने कहा कि भुजबल और पाटिल राकांपा से मंत्री हो सकते हैं। अजित दादा उपमुख्यमंत्री हो सकते हैं।

मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता छगन भुजबल और जयंत पाटिल तथा कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष बालासाहेब थोराट बृहस्पतिवार को राज्य के मंत्रियों के तौर पर शपथ ले सकते हैं। दोनों दलों के सूत्रों के हवाले से यह जानकारी सामने आई है। सूत्रों के मुताबिक उपमुख्यमंत्री का पद राकांपा विधायक अजित पवार को मिल सकता है।

इसे भी पढ़ें: मोदी-शाह पर बरसीं सोनिया, कहा- महाराष्ट्र में लोकतंत्र को खत्म करने की कोशिश हुई

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे यहां दादर इलाके के शिवाजी पार्क में बृहस्पतिवार शाम को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेंगे। राकांपा नेता प्रफुल्ल पटेल ने कहा था कि उनकी पार्टी, शिवसेना और कांग्रेस से एक-एक या दो-दो विधायक समारोह में मंत्री पद की शपथ लेंगे। 

राकांपा के एक सूत्र ने कहा कि भुजबल और पाटिल राकांपा से मंत्री हो सकते हैं। अजित दादा उपमुख्यमंत्री हो सकते हैं। लेकिन, वह आज संभवत: शपथ नहीं लेंगे। कांग्रेस से एक सूत्र ने कहा कि थोराट भी आज शपथ ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण बृहस्पतिवार को मंत्री पद की शपथ लेने वाले कांग्रेस से दूसरे नेता हो सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: अजित पवार बन सकते हैं उपमुख्यमंत्री, आज नहीं लेंगे शपथ

सूत्र ने कहा कि लेकिन, इस पर फैसला कुछ घंटों में लिया जाएगा। विधानसभा अध्यक्ष के लिए अशोक चव्हाण और पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण के नाम की चर्चा है। शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस राज्य में सरकार बनाने के लिए ‘महा विकास अघाड़ी’ मोर्चे के तहत साथ आए थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।