चिदंबरम ने ‘पीएम किसान’ योजना को ‘वोट के लिए रिश्वत’ बताया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 24, 2019   12:27
चिदंबरम ने ‘पीएम किसान’ योजना को ‘वोट के लिए रिश्वत’ बताया

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रविवार को उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में 75,000 करोड़ रुपये की प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम किसान) योजना का शुभारंभ करने वाले हैं।

नयी दिल्ली। केन्द्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत करीब एक करोड़ किसानों को दो-दो हजार रुपये का पहला इंस्टॉलमेंट दिए जाने से पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदबरम ने रविवार को इसकी आलोचना करते हुए योजना को ‘वोट के लिए रिश्वत’ बताया। चिदंबरम ने कहा कि यह बहुत शर्म की बात है कि निर्वाचन आयोग इसे रोक पाने में असफल है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रविवार को उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में 75,000 करोड़ रुपये की प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम किसान) योजना का शुभारंभ करने वाले हैं। आज वह एक करोड़ से ज्यादा किसानों के खाते में 2,000 रुपये की पहली किस्त डालेंगे। चिदंबरम ने ट्वीट किया है, ‘‘आज ‘वोट के लिए नकदी’ दिवस है। भाजपा सरकार वोट के लिए अधिकारिक रूप से प्रत्येक कृषक परिवार को 2,000 रुपये का रिश्वत देगी।’’ 

इसे भी पढ़ें: चिदंबरम का मोदी पर तंज, PM के रहते BJP को किसी की सलाह की क्या जरूरत

पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि यह धन खेती करने वाले किसानों और जमीन के मालिकों को भी मिलेगा। उन्होंने लिखा है, ‘‘लोकतंत्र में ‘वोट के लिए रिश्वत’ से ज्यादा शर्मनाक कुछ नहीं है। सबसे शर्मनाक यह है कि निर्वाचन आयोग ‘वोट के लिए रिश्वत’ को रोकने में असफल नहीं है।’’ कृषि मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि इस योजना के तहत अगले दो-तीन दिन में और एक करोड़ किसानों को लाभ दिया जाएगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।