प्रधान न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे ने भगवान वेंकटेश्वर के दर्शन किए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 24, 2019   10:34
प्रधान न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे ने भगवान वेंकटेश्वर के दर्शन किए

मंदिर के अधिकारी ने बताया कि बाद में न्यायमूर्ति बोबडे ने पवित्र कुंड के किनारे बने श्री वराह स्वामी मंदिर और पवित्र स्थलों के दर्शन किए।

तिरुपति। भारत के प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) शरद अरविंद बोबडे ने शनिवार को तिरुपति में भगवान वेंकटेश्वर के दर्शन किए। मंदिर के अधिकारी ने यह जानकारी दी। तिरुमला की पहाड़ियों में स्थित प्राचीन मंदिर में दर्शन करने से पहले सोमवार को न्यायमूर्ति बोबडे ने देश के 47वें प्रधान न्यायाधीश की शपथ ली थी। उन्होंने यहां पवित्र सहस्र दीपलंकर पूजा में भी हिस्सा लिया और मंडप में भगवान वेंकटेश्वर की प्रतिमा की पूजा अर्चना की। 

मंदिर के अधिकारी ने बताया कि बाद में न्यायमूर्ति बोबडे ने पवित्र कुंड के किनारे बने श्री वराह स्वामी मंदिर और पवित्र स्थलों के दर्शन किए। सीजेआई बोबडे के रेनीगुंटा हवाई अड्डे पर पहुंचने पर आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश जीतेंद्र कुमार माहेश्वरी और अन्य अधिकारियों ने अगवानी की। अधिकारी ने बताया कि सीजेआई तिरुपति में ही रात्रिविश्राम करेंगे और रविवार सुबह दोबारा भगवान वेंकटेश्वर के दर्शन करेंगे। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।