मुश्किल परिस्थितियों से जूझ रहे थे अनंत राम, मुख्यमंत्री ने की 50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता

मुश्किल परिस्थितियों से जूझ रहे थे अनंत राम, मुख्यमंत्री ने की 50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता

मुख्यमंत्री ने समाज के लिए अनंत राम द्वारा किए गए परोपकारी कार्यों तथा उनकी दयनीय स्थिति को देखते हुए तुरन्त 50 हजार रुपये की राशि स्वीकृत की।

मंडी। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने एक बार फिर साबित किया है कि उनकी सरकार बेसहारा, गरीब और असहाय लोगों की सरकार है। अपनी बीमारी से लाचार जिला मण्डी के गांव चैक के अनंतराम जब मुख्यमंत्री से मिलने पहुंचे तो उन्हें खाली हाथ नहीं लौटना पड़ा। 

इसे भी पढ़ें: खालिस्तानी समर्थकों की मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को धमकी, 15 अगस्त के दिन नहीं फहराने देंगे तिरंगा 

अनंत राम सड़क दुर्घटना के कारण पिछले एक वर्ष से चलने-फिरने में असमर्थ हैं। इस शारीरिक अक्षमता के कारण वह अपने परिवार का पालन पोषण नहीं कर पा रहे हैं और वर्तमान में उनका इलाज आईजीएमसी, शिमला से चल रहा है। वह पिछले 20 सालों से सुन्दरनगर के गोताखोर एसोसिएशन के सदस्य है और इस दौरान बहुत से लोगों और पशुओं को सुन्दरनगर बीबीएमबी नहर में डूबने से बचाया है। 

इसे भी पढ़ें: समाज के कमजोर वर्गों के हित में नरेंद्र मोदी सरकार ने लिया ऐतिहासिक निर्णय: सुरेश कश्यप 

मुख्यमंत्री ने समाज के लिए उनके द्वारा किए गए परोपकारी कार्यों तथा उनकी दयनीय स्थिति को देखते हुए तुरन्त 50 हजार रुपये की राशि स्वीकृत की। अनंत राम ने इस सहायता राशि के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद व्यक्त करते हुए कहा कि इस सहायता राशि से उनको अपनी खराब आर्थिक स्थिति से उबरने में सहायता मिलेगी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।