गीदड़ भभकी से बाज नहीं आ रहा चीन, कर रहा भारत को डराने की नाकाम कोशिश

गीदड़ भभकी से बाज नहीं आ रहा चीन, कर रहा भारत को डराने की नाकाम कोशिश

ग्लोबल टाइम्स लगातार यह दावा कर रहा है कि भारत के साथ सीमा पर तनाव को देखते हुए चीन अपनी सैन्य तैयारियां शुरू कर चुका है। ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक चीन बॉर्डर पर सैनिक क्षमता तेजी से बढ़ा रहा है और सेना पूरी तरीके से मुस्तैद है।

सीमा पर जारी तनाव के बीच चीन अपनी गीदड़ भभकी से बाज नहीं आ रहा है। वह लगातार भारत को धमकी देने की कोशिश कर रहा है। इतना ही नहीं, चीन का सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स लगातार भारत के खिलाफ ट्वीट के जरिए आग उगल रहा है। ग्लोबल टाइम्स दोनों देशों के सेनाओं के बीच एलएसी पर हुई झड़प के बाद लगातार भारत के खिलाफ साजिशें रच रहा है। इतना ही नहीं, ग्लोबल टाइम्स चीनी सैनिकों के अभ्यास और उनके सैन्य तैयारियों को लेकर भी लगातार ट्वीट कर रहा है। इसका उद्देश्य सिर्फ और सिर्फ भारत को डराना है। ग्लोबल टाइम्स लगातार यह दावा कर रहा है कि भारत के साथ सीमा पर तनाव को देखते हुए चीन अपनी सैन्य तैयारियां शुरू कर चुका है। ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक चीन बॉर्डर पर सैनिक क्षमता तेजी से बढ़ा रहा है और सेना पूरी तरीके से मुस्तैद है।

इसे भी पढ़ें: भारत-चीन विवाद: PM मोदी के बयान पर उठे सवाल, पीएमओ ने जारी किया स्पष्टीकरण

इतना ही नहीं, ग्लोबल टाइम्स भारत चीन संबंधों को लेकर ट्वीट तो कर ही रहा है। इसके अलावा वह भारत और अमेरिका के संबंधों को लेकर भी टिप्पणियां करने से बाज नहीं आ रहा है। इसके साथ-साथ वह भारत में चीनी सामानों का हो रहे बहिष्कार को लेकर भी ट्वीट किए जा रहा है। एक बार नहीं बल्कि बार बार सीमा पर हुए झड़प को लेकर ग्लोबल टाइम्स भारत को ही जिम्मेदार ठहरा रहा है। लेकिन हद तो तब है जब ना सिर्फ चीन का ग्लोबल टाइम्स बल्कि चीनी सेना भी भारत के खिलाफ लगातार साजिशें रच रहा है। इसका खुलासा एक के बाद एक हो रहा है। हाई रेजोल्यूशन सैटेलाइट तस्वीरों से यह पता चला है कि चीनी सेना गलवान घाटी में अपनी योजना को पूरी तरीके से अंजाम देने की कोशिश कर रहा है।

इसे भी पढ़ें: नड्डा का कांग्रेस पर तंज, कहा- फौज का मनोबल गिराने का काम कर रहे हैं कुछ नेता

इन तस्वीरों से यह भी साफ हो रहा है कि चीन ने उत्तर पूर्वी लद्दाख में गलवान नदी के बहाव को प्रभावित करने या उसमें अवरोध पैदा करने की कोशिश कर रहा है। खास बात यह भी है कि चीन ऐसा उस जगह पर कर रहा है जो कि भारत चीन सैनिकों की खूनी झड़प वाली जगह से बमुश्किल से 1 किलोमीटर दूर भी नहीं है। चीन पानी का बहाव रोकने के लिए बुलडोजर का इस्तेमाल कर रहा है। तस्वीरों में गलवान नदी के किनारे काफी सारे ट्रक, सैन्य परिवहन और बुलडोजर दिखाई दे रहे है। इसके अलावा चीन सीमा पर अपने सड़क को चौड़ा कर रहा है। नदी पर पुल बनाने के संकेत भी दे रहा है। एलएसी के 2 किलोमीटर के भीतर गलवान घाटी में भारतीय सेना के ट्रक भी दिखाई दे रहे है जो कि गलवान नदी के उस हिस्से में खड़े हैं जो सुखा हुआ है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।