मालदा में फिर भड़की हिंसा! तृणमूल कांग्रेस के दो गुटों में हुई झड़प, कई मकानों में तोड़-फोड़, देसी बम फेंके गए

Clashes
ani
पंचायत समिति के पदाधिकारी सैफुद्दीन शेख के नेतृत्व में तृणमूल कार्यकर्ताओं के एक समूह की पार्टी के क्षेत्रीय अध्यक्ष नासिर अली के नेतृत्व वाले धड़े से माणिकचक ब्लॉक के गोपालपुर बालूटोला इलाके में शनिवार को झड़प हो गई। पुलिस ने बताया कि इस दौरान देसी बम फेंके गए और कम से कम 12 मकानों में तोड़-फोड़ की गई।

इंग्लिश बाजार (पश्चिम बंगाल)। पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में तृणमूल कांग्रेस के दो गुटों के बीच झड़प के दौरान देसी बम फेंके गए और कई मकानों में तोड़-फोड़ की गई, जिसके कारण इलाके में तनाव पैदा हो गया। पंचायत समिति के पदाधिकारी सैफुद्दीन शेख के नेतृत्व में तृणमूल कार्यकर्ताओं के एक समूह की पार्टी के क्षेत्रीय अध्यक्ष नासिर अली के नेतृत्व वाले धड़े से माणिकचक ब्लॉक के गोपालपुर बालूटोला इलाके में शनिवार को झड़प हो गई।

इसे भी पढ़ें: Coronavirus in India | 24 घंटे में कोरोना वायरस के 2,828 नए मामले, 14 मरीजों की गयी जान

पुलिस ने बताया कि इस दौरान देसी बम फेंके गए और कम से कम 12 मकानों में तोड़-फोड़ की गई। उन्होंने बताया कि इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है। पुलिस ने बताया कि इस मामले में अभी किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है। माणिकचक से विधायक और तृणमूल नेता सावित्री मित्रा ने कहा कि दोनों नेताओं के बीच जमीन को लेकर विवाद पुराना है, जिसके कारण पहले भी हिंसा हुई है। उन्होंने कहा, ‘‘इसका तृणमूल कांग्रेस से कोई लेना-देना नहीं है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़