स्मैक की बिक्री को लेकर भड़के CM शिवराज, कहा - इन्हें बेचने वालों को बर्बाद और तबाह कर दो

स्मैक की बिक्री को लेकर भड़के CM शिवराज, कहा - इन्हें बेचने वालों को बर्बाद और तबाह कर दो

उन्होंने कहा कि स्मैक युवा पीढ़ी को खोखला कर रही है। इस काम में लगे लोगों को तबाह कर देना है। इन लोगों को बर्बाद कर देना है। इसकी कार्ययोजना बनाकर इन्हें चिन्हित करें।

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को मंत्रालय में कलेक्टर-कमिश्नर की बैठक ली। बैठक में शिवराज ने नशे के सौदागरों के खिलाफ कड़े तेवर दिखाए।स्मैक को लेकर मुख्यमंत्री के तीखे तेवर दिखाते हुए अधिकारियों से कहा कि स्मैक बेचने वालों को बर्बाद और तबाह कर दो। 

इसे भी पढ़ें:क्या बिटकॉइन को मिलने वाला है मुद्रा का दर्जा ? वित्त मंत्री ने दिया यह लिखित जवाब 

उन्होंने कहा कि स्मैक युवा पीढ़ी को खोखला कर रही है। इस काम में लगे लोगों को तबाह कर देना है। इन लोगों को बर्बाद कर देना है। इसकी कार्ययोजना बनाकर इन्हें चिन्हित करें। सब पर कार्यवाही करनी है। कोई बचना नहीं चाहिए।

उन्होंने अधिकारियों से कहा कि नशा का कारोबार करने वालों के साथ प्रशासन की मिलीभगत के कई बार समाचार आते हैं। पुलिस या कोई अन्य अधिकारी जो भी नशा का कारोबार करने वालों के साथ मिलीभगत कर रहा है। ऐसे लोगों पर कड़ी कार्यवाही करें।

इसे भी पढ़ें:मानसून सत्र में हंगामे को लेकर बड़ा एक्शन, शीतकालीन सत्र से कांग्रेस, टीएमसी और शिवसेना के 12 सांसद राज्यसभा से निलंबित 

बैठक में मुख्यमंत्री तीन जिलों के एसपी पर नाराज हुए। विदिशा, धार और मुरैना जिलों के एसपी से सीएम ने जताई नाराजगी। वहीं बढ़ते अपराधों को लेकर सीएम ने नाराजगी जताई। इसके साथ ही चिन्हित अपराधों में अच्छी कार्रवाई करने वाले एसपी की तारीफ की।

वहीं प्रदेश में बढ़ते महिला अपराधों को लेकर मुख्यमंत्री ने बैठक में चिंता जताई। उन्होंने कहा कि महिलाओं के प्रति अपराध की खबरें मन को बहुत तकलीफ देती हैं। इन्हें रोकने हर सम्भव प्रयास करना है। इसका पूरा अध्ययन करें, महिला अपराध रोकने जो भी सम्भव हो वो करें।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...