कांग्रेस का मोदी पर हमला, कहा- पाक की तारीफ करने वाले को गले लगाना सही नहीं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 20, 2019   14:09
कांग्रेस का मोदी पर हमला, कहा- पाक की तारीफ करने वाले को गले लगाना सही नहीं

गौरतलब है कि मंगलवार की रात मोहम्मद बिन सलमान के आगमन पर प्रधानमंत्री मोदी ने प्रोटोकाल से अलग हटते हुए स्वयं उनकी आगवानी की ।

नयी दिल्ली। कांग्रेस ने सऊदी अरब के युवराज (वली अहद) मोहम्मद बिन सलमान का प्रोटोकॉल से इतर जाकर स्वागत करने को लेकर बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और सवाल किया कि क्या पाकिस्तान के तथाकथित आतंकवाद विरोधी प्रयासों की तारीफ करने वाले शख्स को गले लगाकर पुलवामा के शहीदों को याद करने का मोदी का यही तरीका है। पार्टी ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री सऊदी अरब से कहें कि वह आतंकवाद विरोधी लड़ाई को लेकर पाकिस्तान की तारीफ करने वाले साझा बयान से खुद को अलग करे।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बिन सलमान और मोदी के गले मिलने वाली तस्वीरें और पाक-सऊदी साझा बयान के लिखित ब्यौरे को शेयर करते हुए ट्वीट किया, ‘‘राष्ट्रीय हित बनाम मोदी जी की गले लगने वाली कूटनीति.... । प्रोटोकॉल तोड़कर उस व्यक्ति का भव्य स्वागत किया जिसने पाकिस्तान को 20 अरब डॉलर देने का वादा किया और पाकिस्तान के ‘आतंकवाद विरोधी’ प्रयासों की सराहना की।’’ उन्होंने प्रधानमंत्री से सवाल किया, ‘‘क्या पुलवामा के शहीदों को याद करने का आपका यही तरीका है?’’

यह भी पढ़ें: सऊदी अरब के शहजादे की यात्रा से दोनों देशों के संबंध होंगे और भी मजबूत: मोदी

सुरजेवाला ने कहा, ‘‘मोदी जी, क्या आप सऊदी अरब से कहेंगे कि वह पाकिस्तान के साथ जारी उस साझा बयान से पीछे हटे जिसमें मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने की भारत की मांग को वस्तुत: खारिज किया गया है।’’  गौरतलब है कि मंगलवार की रात मोहम्मद बिन सलमान के आगमन पर प्रधानमंत्री मोदी ने प्रोटोकाल से अलग हटते हुए स्वयं उनकी आगवानी की । सऊदी अरब के युवराज भारत की पहली द्विपक्षीय यात्रा पर आए हैं। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।