अमरिंदर मंत्रिमंडल के 5 मंत्रियों का पत्ता साफ, चन्नी की टीम में शामिल होंगे 7 नए चेहरे, बस सोनिया की मुहर का इंतजार

अमरिंदर मंत्रिमंडल के 5 मंत्रियों का पत्ता साफ, चन्नी की टीम में शामिल होंगे 7 नए चेहरे, बस सोनिया की मुहर का इंतजार

माना जाता है कि पार्टी ने पूर्व स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिद्धू, राजस्व मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़, उद्योग मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा, समाज कल्याण मंत्री साधु सिंह धर्मसोत और खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी को हटाने पर सहमति बना ली है।

चंडीगढ़। पंजाब में जल्द ही मंत्रिमंडल का विस्तार होने वाला है। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी मंत्रिमंडल को अंतिम रूप दिया जा चुका है लेकिन अभी कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी ने मुहर नहीं लगाई है। ऐसे में उनकी मुहर का इंतजार है। पंजाब कांग्रेस ने पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह की जगह पर चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बना दिया है और अब उनके मंत्रिमंडल में शामिल 5 मंत्रियों को चन्नी के मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किए जाने की संभावना है। 

इसे भी पढ़ें: पंजाब के बाद राजस्थान में हलचल तेज, 8 दिन में दूसरी बार राहुल से मिले सचिन, ठुकराया PCC चीफ का पद 

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, पंजाब पार्टी प्रभारी हरीश रावत, वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल, हरीश चौधरी और अजय माकन की मौजूदगी में पंजाब मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर गहन चर्चा हुई।

इन मंत्रियों की होगी छुट्टी

माना जाता है कि पार्टी ने पूर्व स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिद्धू, राजस्व मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़, उद्योग मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा, समाज कल्याण मंत्री साधु सिंह धर्मसोत और खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी को हटाने पर सहमति बना ली है।

वहीं इस बैठक में पूर्व सिंचाई मंत्री राणा गुरजीत सिंह को चन्नी मंत्रिमंडल में जगह दिए जाने पर भी सहमति बनी। राणा गुरजीत सिंह पहले अमरिंदर मंत्रिमंडल में थे लेकिन एक कथित रेत आवंटन घोटाले को लेकर उन्होंने अपना पद छोड़ दिया था। 

इसे भी पढ़ें: सिद्धू के यार इमरान और बाजवा रावत के भाईजान, कांग्रेस के लिए क्यों इतना प्रिय है पाकिस्तान? 

मंत्रिमंडल में इन नेताओं को मिलेगी जगह !

मुख्यमंत्री चन्नी ने शनिवार को राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित से मुलाकात की। इसके बाद उन्होंने बताया कि रविवार शाम 4:30 बजे नए मंत्रियों के लिए शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन होगा। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक चन्नी मंत्रिमंडल में परगट सिंह, राजकुमार वेरका, गुरकीरत सिंह कोटली, अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग, कुलजीत नागरा और राणा गुरजीत सिंह को शामिल किया जा सकता हैं।

माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री चन्नी और दो उप मुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा और ओपी सोनी समेत कुल 18 विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल किया जा सकता है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...