गुजरात चुनाव में हार पर मंथन के लिए सौराष्ट्र के पार्टी उम्मीदवारों से मिला कांग्रेस का पैनल

Congress
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
गुजरात विधानसभा चुनावों में मिली हार पर मंथन के लिए कांग्रेस की तीन सदस्यीय समिति ने मंगलवार को सौराष्ट्र क्षेत्र से पार्टी के उम्मीदवारों से भेंट की। दिसंबर में हुए 182 सदस्यीय गुजरात विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को सबसे ज्यादा 156 सीटें मिली हैं।

गुजरात विधानसभा चुनावों में मिली हार पर मंथन के लिए कांग्रेस की तीन सदस्यीय समिति ने मंगलवार को सौराष्ट्र क्षेत्र से पार्टी के उम्मीदवारों से भेंट की। दिसंबर में हुए 182 सदस्यीय गुजरात विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को सबसे ज्यादा 156 सीटें मिली हैं। वहीं कांग्रेस को 17 सीटें (27.28 प्रतिशत वोट) मिलीं जो 1960 के बाद राज्य में पार्टी का सबसे खराब प्रदर्शन है। कांग्रेस को 2017 के चुनावों में 77 सीटें मिली थीं जिनमें से सौराष्ट्र क्षेत्र से 28 सीटें थीं।

पत्रकारों से बातचीत में कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के नेता नितिन राउत ने कहा कि तथ्याण्वेषी समिति को विधानसभा चुनावों में पार्टी की हार के कारणों की रिपोर्ट तैयार करने और आने वाले दिनों में संगठन को मजबूत बनाने के लिए तरीके बताने हैं। समिति में नितिन राउत के अलावा शकील अहमद खान और सप्तगिरि संकर उलका शामिल हैं। इस समिति का गठन चार जनवरी को हुआ और उनसे दो सप्ताह के भीतर अपनी रिपोर्ट पार्टी को सौंपने को कहा गया है।

राउत ने कहा, ‘‘हमने अपनी पहली चरण की बैठक सोमवार को शुरू की और आज पहले चरण का अंतिम दिन है। हम उम्मीदवारों से मिल रहे हैं और तमाम सूचनाएं मिल रही हैं।’’ पार्टी प्रवक्ता मनीष दोशी ने कहा कि बैठक के दूसरे दिन सौराष्ट्र से करीब 30 उम्मीदवारों ने यहां राजीव भवन में पैनल से भेंट की। दोशी ने कहा, ‘‘समिति ने दो दिनों में 70 से ज्यादा उम्मीदवारों से भेंट की है जिनमें से 30 सौराष्ट्र से हैं। बाकी उम्मीदवारों से समिति तीन दिन बाद मिलेगी और उसके बाद संगठन के नेताओं से मिलेगी।’’ पूर्व विधायक विरजी थुम्मार ने कहा कि पार्टी पिछले 27 वर्षों में भाजपा की असफलताओं के बारे में राज्य की जनता को बताने में असफल रही।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़