कोरोना वायरस: ओडिशा में पांच और व्यक्ति संक्रमित पाए गए, कुल मामले 94 हुए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 24, 2020   20:22
कोरोना वायरस: ओडिशा में पांच और व्यक्ति संक्रमित पाए गए, कुल मामले 94 हुए

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने बताया कि आठ प्रयोगशालाओं में 23 अप्रैल की मध्य रात्रि तक 2474 नमूनों की जांच हो चुकी है। भद्रक, बालासोर और जाजपुर में कोरोना वायरस से बढ़ते मामलों के कारण राज्य सरकार ने इन तीनों जिलों में बृहस्पतिवार रात 10 बजे से 60 घंटे का पूर्ण बंद लागू कर दिया है।

भुवनेश्वर। ओडिशा के भद्रक जिले में शुक्रवार को पांच और लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए जिससे राज्य में इस घातक वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 94 हो गई है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने कहा कि ये सभी हाल में पश्चिम बंगाल से भद्रक लौटे थे और उनकी उम्र 24 वर्ष से 41 वर्ष के बीच है। उन्होंने कहा कि इनके संपर्क में आए लोगों का पता लगाया जा रहा है। विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि संक्रमित लोगों में से एक बासुदेवपुर का है जबकि भद्रक जिले के तिहिडी और धामनगर के दो-दो व्यक्ति हैं। 

इसे भी पढ़ें: लॉकडाउन में अकेलेपन को मात देने के लिए पुस्तकें पढ़ें: नवीन पटनायक

अधिकारियों ने बताया कि नये मामले सामने आने के साथ ही भद्रक में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 16 हो गई है। इनमें दो लोग ठीक भी हुए हैं। भद्रक के जिला कलेक्टर ज्ञान दास ने कहा कि अरण्डुआ ग्राम पंचायत और ब्राह्मणीगांव ग्राम पंचायत को नया निरुद्ध क्षेत्र अधिसूचित किया गया है। राज्य में कोविड-19 संक्रमण के 94 मामलों में से 60 लोगों का अभी अस्पताल में इलाज चल रहा है और 33 लोग स्वस्थ हो गए हैं। 

इसे भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री प्रताप सारंगी ने की मांग, पत्रकारों के लिए स्वास्थ्य बीमा योजना लाए सरकार

इस बीमारी के कारण 72 वर्षीय एक बुजुर्ग की छह अप्रैल को भुवनेश्वर में मौत हो गई थी। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने बताया कि आठ प्रयोगशालाओं में 23 अप्रैल की मध्य रात्रि तक 2474 नमूनों की जांच हो चुकी है। भद्रक, बालासोर और जाजपुर में कोरोना वायरस से बढ़ते मामलों के कारण राज्य सरकार ने इन तीनों जिलों में बृहस्पतिवार रात 10 बजे से 60 घंटे का पूर्ण बंद लागू कर दिया है। इन तीनों जिलों में पिछले छह दिन में कोविड-19 के 34 मामले सामने आए हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।