छत्तीसगढ़ में बारूदी सुरंग में विस्फोट, CRPF अधिकारी शहीद, नौ कमांडो घायल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 29, 2020   16:37
छत्तीसगढ़ में बारूदी सुरंग में विस्फोट, CRPF अधिकारी शहीद, नौ कमांडो घायल

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में शनिवार रात को बारूदी सुरंग में हुए विस्फोट में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के एक सहायक कमांडेंट शहीद हो गए तथा नौ अन्य कमांडो घायल हो गए।

रायपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में शनिवार रात को बारूदी सुरंग में हुए विस्फोट में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के एक सहायक कमांडेंट शहीद हो गए तथा नौ अन्य कमांडो घायल हो गए। सुरक्षा अधिकारियों ने रविवार को बताया कि सुकमा जिले के चिंतलनार थाना क्षेत्र के अंतर्गत ताड़मेटला गांव के पास जंगल में नक्सलियों ने शनिवार को रात करीब नौ बजे बारूदी सुरंग में विस्फोट कर दिया। मध्यरात्रि में वायुसेना के एमआई-17 वी5 हेलिकॉप्टर ने घायल जवानों को वहां से निकाला।

इसे भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में बारूदी सुरंग में बड़ा विस्फोट, सीआरपीएफ अधिकारी शहीद और 7 जवान घायल

अधिकारियों ने बताया कि इस घटना में घायल सीआरपीएफ की 206 वीं कोबरा बटालियन के सहायक कमांडेंट 33 वर्षीय नितिन पी भालेराव ने रविवार तड़के दम तोड़ दिया। विस्फोट में सेकेंड इन कमान रैंक के अधिकारी टीम लीडर दिनेश कुमार समेत नौ अन्य कमांडो घायल हो गए। सात जवानों का रायपुर के अस्पताल में इलाज चल रहा है जबकि दो जवानों का इलाज चिंतलनार के अस्पताल में हो रहा है। घायल जवान सीआरपीएफ की 206 वीं कोबरा बटालियन से हैं।

इसे भी पढ़ें: भोपाल में कथित लव जिहाद का मामला, धर्म छुपाकर किया विवाह अब धर्म परिवर्तन का दबाब 

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सीआरपीएफ की पांच नई बटालियनों के शिविर लगाने के लिए यह दल स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर इलाके का निरीक्षण कर रहा था और इसी दौरान आईईडी विस्फोट हो गया। केंद्रीय गृह मंत्रालय की हाल में मिली मंजूरी के बाद छत्तीसगढ़ में सीआरपीएफ की पांच और बटालियनों को नक्सल विरोधी ड्यूटी पर लगाया जा सकता है। बल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि शहीद भालेराव महाराष्ट्र के नासिक जिले के निवासी थे। वह 2010 में सीआरपीएफ में शामिल हुए थे और कोबरा बटालियन में 2019 में आए थे। सीआरपीएफ के महानिदेशक ए.पी. माहेश्वरी सुबह ही दिल्ली से रायपुर पहुंचे और उन्होंने यहां बल के शिविर में शहीद को श्रद्धांजलि दी।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘सीआरपीएफ शोक संतप्त परिवार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है। बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। हम और जोश के साथ अभियान को आगे बढ़ाएंगे और शत्रुओं को उनकी कायराना हरकतों में कामयाब नहीं होने देंगे।’’ शहीद भालेराव के परिवार में उनकी मां, पत्नी और छह वर्ष की बेटी है। सीआरपीएफ के प्रवक्ता ने बताया कि शहीद के पार्थिव शरीर को विमान के जरिए आज शाम नासिक ले जाया जाएगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।