डकैत हरिसिंह का गुर्गा हथियार सहित गिरफ्तार, चोरी,डकैती, मादक पदार्थ सहित तस्करी के है आरोप

डकैत हरिसिंह का गुर्गा हथियार सहित गिरफ्तार, चोरी,डकैती, मादक पदार्थ सहित तस्करी के है आरोप

आरोपी के कब्जे से 315 बोर का देशी कट्टा और दो जिंदा कारतूस जब्त किए। पुलिस ने बदमाश की निशानदेही पर ग्राम बेदरा से 14 देशी कट्टे व छह जिंदा कारतूस बरामद किए है। आरोपित रामनारायण पर पूर्व में एनडीपीएस एक्ट, आर्म्स एक्ट, वाहन चोरी, हत्या सहित अन्य प्रकरण दर्ज है।

राजगढ़। मध्य प्रदेश में राजगढ़ जिले के भोजपुर थाना पुलिस टीम ने मुखबिर की सूचना पर पूर्व कुख्यात अपराधी डकैत हरीया उर्फ हरीसिंह के खास गुर्गे को देशी कट्टों के साथ गिरफ्तार किया। आरोपी पर पूर्व से ही चोरी, डकैती, मादक पदार्थ की तस्करी सहित हत्या जैसे प्रकरण दर्ज है। बदमाश की निशानदेही पर पुलिस ने गांव बेदरा से दबिश देकर 14 देशी कट्टा और 6 जिंदा कारतूस बरामद किए है। पुलिस आरोपित से पूछताछ में जुटी है। 

 

इसे भी पढ़ें: नाबालिग लड़की का अपहरण कर दुष्कर्म करने वाला आरोपी युवक गिरफ्तार

पुलिस अधीक्षक प्रदीप शर्मा ने खुलासा करते हुए बताया कि भोजपुर थाना प्रभारी वीरेन्द्र सिंह धाकड़ को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि निगरानी बदमाश रामनारायण तंवर निवासी बेदरा इलाके में गंभीर वारदात करने की नीयत से हथियार लेकर घूम रहा है, जो पूर्व कुख्यात अपराधी हरिया का साथी है और उसकी मौत का बदला लेने के लिए आरोपितों के परिवारजनों को नुकसान पहुंचा सकता है।

इसे भी पढ़ें: प्रेमी के प्यार में पागल नाबालिग लड़की ने की अपने माँ-बाप की हत्या

जानकारी के अनुसार 20 अप्रैल 2020 को हरीसिंह उर्फ हरिया की हत्या हो गई था। मामले में गिरफ्तार आरोपित जेल में है। पुलिस टीम ने सूचना पर नांईहेड़ा जोड़ के समीप होड़ामाता मंदिर रोड़ से घेराबंदी कर रामनारायण तंवर को गिरफ्तार किया गया। आरोपी के कब्जे से 315 बोर का देशी कट्टा और दो जिंदा कारतूस जब्त किए। पुलिस ने बदमाश की निशानदेही पर ग्राम बेदरा से 14 देशी कट्टे व छह जिंदा कारतूस बरामद किए है। आरोपित रामनारायण पर पूर्व में एनडीपीएस एक्ट, आर्म्स एक्ट, वाहन चोरी, हत्या सहित अन्य प्रकरण दर्ज है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।