• आ गई मोदी मंत्रिमंडल के विस्तार की तारीख! इन खास चेहरों को मिल सकती है जगह

अभिनय आकाश Jul 01, 2021 22:49

सूत्रों की माने तो अच्छा प्रदर्शन नहीं करने वाले कई मंत्रियों की छुट्टी हो सकती है। जबकि अनेक नए चेहरे भी मंत्रिमंडल में देखने को मिल सकते हैं। वर्तमान में कैबिनेट में 21 कैबिनेट मंत्री हैं जिनकी संख्या बढ़ने की संभावना है।

केंद्रीय मंत्रिमंडल में विस्तार की सुगबुगाहट फिर तेज हो गई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 4 जुलाई (रविवार) को मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार हो सकता है। सूत्रों के अनुसार, दो साल के बाद होने जा रहा यह बदलाव बड़ा होगा। वहीं सूत्रों की माने तो अच्छा प्रदर्शन नहीं करने वाले कई मंत्रियों की छुट्टी हो सकती है। जबकि अनेक नए चेहरे भी मंत्रिमंडल में देखने को मिल सकते हैं। वर्तमान में कैबिनेट में 21 कैबिनेट मंत्री हैं जिनकी संख्या बढ़ने की संभावना है। वहीं स्वतंत्र प्रभार के नौ और राज्यमंत्री 23 हैं जिनकी संख्या में भी इजाफा होता नजर आ सकता है।

इसे भी पढ़ें: डॉक्टरों के बलिदान को PM ने किया नमन, कहा- कोरोना का खतरा अभी गया नहीं

इन चेहरों को मिल सकती है जगह

ज्योतिरादित्य सिंधिया

दिनेश त्रिवेदी

भूपेंद्र यादव

अश्विनी वैष्णव

वरुण गांधी

जामयांग शेरिंग नामग्याल

अमित शाह और नड्डा से मुलाकात पर मांझी ने कही ये बात 

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की। जिसके बाद आज मीडिया से बात करते हुए मांझी ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री का धन्यवाद करता हूं, अपने पत्र में मैंने तीन मुद्दों का जिक्र किया था। मेरा पत्र मिलते ही प्रधानमंत्री ने गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित कर दी, कल हम लोगों की बैठक हुई और बहुत सार्थक बात हुई।

जदयू के कैबिनेट में शामिल होने को लेकर संशय

साल 2019 में मोदी सरकार के गठन के दौरान जेडीयू को केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने का ऑफर बीजेपी ने दिया था, लेकिन उस समय महज एक मंत्री पद जेडीयू को दिया जा रहा था। एक मंत्री पद का ऑफर लेने से इनकार कर दिया था। वहीं, अब दो साल के बाद जेडीयू मोदी कैबिनेट में शामिल होने के राजी हो गई है। हालांकि जदयू के कैबनेट में शामिल होने को लेकर संशय बरकरार है। जदयू में मंत्री बनने के दावेदार अधिक हैं लेकिन सरकार एक या दो से ज्यादा मंत्री उसके कोटे से बनाने में सक्षम नहीं है।