लाल किला हिंसा मामले में एक्शन में दिल्ली पुलिस, जारी की 20 अन्य लोगों की तस्वीरें

लाल किला हिंसा मामले में एक्शन में दिल्ली पुलिस, जारी की 20 अन्य लोगों की तस्वीरें

दिल्ली पुलिस ने 20 और लोगों की तस्वीरें जारी की हैं, जो 26 जनवरी को लाल किले में हुई हिंसा में कथित रूप से शामिल थे। जिसके बाद इनके तलाश की प्रक्रिया भी तेज कर दी जाएगी। इ

देश की राजधानी में गणतंत्र दिवस के मौके पर लाल किला पर ट्रैक्टर रैली की आड़ में हिंसा फैलाने वालों पर पुलिसिया कार्रवाई ने रफ्तार पकड़ ली है। इसी क्रम में दिल्ली पुलिस की ओर से आरोपियों की तस्वीर जारी की गई है। पुलिस ने 26 जनवरी को लाल किले पर हिंसा मामले में 20 और लोगों की तस्वीरें जारी की हैं। दिल्ली पुलिस ने 20 और लोगों की तस्वीरें जारी की हैं, जो 26 जनवरी को लाल किले में हुई हिंसा में कथित रूप से शामिल थे। जिसके बाद इनके तलाश की प्रक्रिया भी तेज कर दी जाएगी। इससे पहले दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने 26 जनवरी हिंसा मामले में 12 लोगों की तस्वीरें जारी की थी। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा नेता शाजिया इल्मी की शिकायत पर बसपा के पूर्व सांसद के खिलाफ मामला दर्ज

 गौरतलब है कि दिल्ली में 26 जनवरी को किसानों के ट्रैक्टर मार्च के दौरान प्रदर्शनकारियों का एक समूह लाल किला पहुंच गया था और उन्होंने वहां निशान साहिब का झंडा भी लगाया था। इस दौरान पुलिस के साथ प्रदर्शन करने वाले लोगों की झड़प भी हुई थी जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। क्राइम ब्रांच की एसआईटी मामले की जांच कर रही है। 

इसे भी पढ़ें: दिल्ली सरकार ने नर्सरी में दाखिले के लिए उम्र सीमा में एक महीने की छूट दी

 लक्खा सिंह ने वीडियो जारी कर किया यह ऐलान

दिल्ली में लाल किला हिंसा का मास्टरमाइंड और एक लाख रुपये का इनामी पूर्व गैंगस्टर लक्खा सिंह सिधाना ने 23 फरवरी को बठिंडा में प्रर्शन का एलान किया है। लक्खा ने कहा कि 23 फरवरी को बड़ी संख्या में आएं। लक्खा सिधाना गणतंत्र दिवस हिंसा मामले में दीप सिंह सिद्धू के बाद सबसे बड़ा आरोपी है। देशद्रोह और डकैती जैसी संगीन धाराओं में नामजद है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...