फड़णवीस ने महाराष्ट्र के CM तो अजित पवार ने डिप्टी सीएम के तौर पर ली शपथ, जानें पूरा घटनाक्रम

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 23, 2019   10:35
फड़णवीस ने महाराष्ट्र के CM तो अजित पवार ने डिप्टी सीएम के तौर पर ली शपथ, जानें पूरा घटनाक्रम

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने सुबह करीब साढ़े सात बजे एक समारोह में दोनों को शपथ दिलायी।

मुंबई। महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री के तौर पर एक बार फिर भाजपा के देवेंद्र फड़णवीस की वापसी के साथ ही महीने भर से चल रहे राजनीतिक गतिरोध का नाटकीय रूप से अंत हो गया। राकांपा नेता अजित पवार ने यहां राज भवन में उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली।

इसे भी पढ़ें: भाजपा नेता गिरीश महाजन का दावा, हमारे पास 170 विधायकों का है समर्थन

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने यहां सुबह करीब साढ़े सात बजे एक समारोह में दोनों को शपथ दिलायी। शिवसेना पर पिछले महीने विधानसभा चुनाव में लोगों के जनादेश का अपमान करने का आरोप लगाते हुए फड़णवीस ने कहा, ‘‘लोगों ने हमें स्पष्ट जनादेश दिया था लेकिन शिवसेना ने नतीजों के बाद अन्य दलों के साथ गठबंधन करने की कोशिश की जिसके बाद राष्ट्रपति शासन लगा। महाराष्ट्र को स्थायी सरकार की जरूरत है न कि ‘खिचड़ी’ सरकार की।’’

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता ने कहा, ‘‘मुझे एक बार फिर लोगों की सेवा करने का मौका देने के लिए मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और जे पी नड्डा का आभार जताता हूं।’’ उन्होंने कहा कि अजित पवार ने भगवा पार्टी को समर्थन दिया और निर्दलीय विधायकों तथा छोटी पार्टियों के समर्थन के साथ भाजपा ने सरकार बनाने का दावा पेश करने का फैसला किया। उपमुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने के बाद अजित पवार ने कहा, ‘‘24 अक्टूबर को नतीजे आने से लेकर अब तक कोई पार्टी सरकार नहीं बना पा रही थी। महाराष्ट्र में किसानों के मुद्दों समेत कई दिक्कतें थी इसलिए हमने एक स्थायी सरकार बनाने का फैसला किया।’’

इसे भी पढ़ें: नयी महाराष्ट्र सरकार राज्य के कल्याण और विकास के लिए प्रतिबद्ध होगी: शाह

उल्लेखनीय है कि राकांपा के शरद पवार ने बृहस्पतिवार रात को कहा था कि राकांपा, कांग्रेस और शिवसेना में इस बात को लेकर सहमति बन गयी है कि उद्धव ठाकरे नयी सरकार का नेतृत्व करें। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि क्या राकांपा दो फाड़ हो गयी है या सभी 54 विधायकों ने भाजपा का समर्थन किया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।