Surgical Strike पर सवाल उठाकर कांग्रेस में ही अकेले पड़े दिग्विजय सिंह, जयराम रमेश ने कहा- यह उनके निजी विचार

jairam ramesh digvijay
ANI
अंकित सिंह । Jan 24, 2023 11:31AM
दिग्विजय सिंह के इस बयान पर पार्टी के महासचिव जयराम रमेश ने एक ट्वीट किया। अपने इस ट्वीट में जयराम रमेश ने साफ तौर पर कहा कि दिग्विजय सिंह की टिप्पणी उनके निजी विचार है और पार्टी द्वारा इसका समर्थन नहीं किया गया है।

भारत जोड़ो यात्रा के दौरान दिग्विजय सिंह ने पुलवामा हमले और सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर एक ऐसा बयान दे दिया जिसके बाद उनकी पार्टी कांग्रेस भी असहज स्थिति में दिखाई दे रही है। सरकार पर निशाना साधते-साधते उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर भी सुबूत मांग लिया। अब दिग्विजय सिंह के इस बयान पर बवाल मचा हुआ है। पूर्व सेना के अधिकारियों ने भी दिग्विजय सिंह के बयान पर नाराजगी जताई है। विवाद बढ़ता देख कांग्रेस भी अब दिग्विजय सिंह के बयान से किनारा करती हुई नजर आ रही है। कांग्रेस की ओर से साफ तौर पर कहा जा रहा है कि यह दिग्विजय सिंह के निजी विचार है। दिग्विजय सिंह ने साफ तौर पर कहा कि दावा किया जाता है कि हमने सर्जिकल स्ट्राइक किया लेकिन इसके सबूत कहा है। 

इसे भी पढ़ें: Digvijay के बयान पर शिवराज का वार, बोले- कांग्रेस का DNA ही पाकिस्तान का है, वो सेना का मनोबल गिराने का काम कर रहे हैं

दिग्विजय सिंह के इस बयान पर पार्टी के महासचिव जयराम रमेश ने एक ट्वीट किया। अपने इस ट्वीट में जयराम रमेश ने साफ तौर पर कहा कि दिग्विजय सिंह की टिप्पणी उनके निजी विचार है और पार्टी द्वारा इसका समर्थन नहीं किया गया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार द्वारा 2014 से पहले सर्जिकल स्ट्राइक की गई थी। सैन्य कार्रवाई जो राष्ट्रीय हित में है, कांग्रेस ने सभी का समर्थन किया है और आगे भी करती रहेगी। लेकिन भाजपा दिग्विजय सिंह पर जबरदस्त तरीके से हमलावर है। भाजपा ने तो साफ तौर पर कह दिया है कि कांग्रेस का डीएनए पाकिस्तान का डीएनए है। दिग्विजय सिंह सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांग रहे हैं। ऐसा करके वह सेना का मनोबल गिरा रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: Jammu Kashmir: लोगों के सामने राहुल गांधी ने उठाया स्टेटहुड का मुद्दा, बोले- इसे बहाल कराने में हम पूरा दम लगा देंगे

जम्मू कश्मीर में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान एक जनसभा को संबोधित करते हुए सिंह ने आरोप लगाया कि सरकार केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के कर्मियों को श्रीनगर से दिल्ली हवाई मार्ग से लाने के उसके (सीआरपीएफ के) अनुरोध पर सहमत नहीं हुई थी और पुलवामा में 2019 के एक आतंकी हमले में 40 सैनिकों को अपना बलिदान देना पड़ा। अपनी टिप्पणियों से अकसर विवाद पैदा करने वाले मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘वे सर्जिकल स्ट्राइक की बात करते हैं। वे कई लोगों को मारने की बात करते हैं लेकिन कोई सबूत नहीं दिया। वे झूठ के पुलिंदों के सहारे शासन कर रहे हैं।’’ 

अन्य न्यूज़