भाजपा विधायकों के कांग्रेस में जाने की चर्चाएं महज अफवाह: रमेश पोखरियाल निशंक

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 17, 2022   21:44
भाजपा विधायकों के कांग्रेस में जाने की चर्चाएं महज अफवाह: रमेश पोखरियाल निशंक

हरिद्वार से लोकसभा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री निशंक ने संवाददाताओं द्वारा इस संबंध में सवाल पूछे जाने पर सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों में चल रही इन चर्चाओं को गलत बताया और कहा कि उनकी तीनों विधायकों से बात हुई है और तीनों ने कहा है कि ‘‘वे भाजपा में हैं और भाजपा में ही रहेंगे।’’

देहरादून। उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव के लिए 14 फरवरी को होने वाले मतदान से पहले सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के तीन विधायकों के कांग्रेस में जाने की चर्चाओं को लेकर वरिष्ठ भाजपा नेता डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने सोमवार को कहा कि ये चर्चाएं केवल अफवाहें हैं। कांग्रेस में जाने की संभावनाएं टटोलने संबंधी अटकलों के बीच हरक सिंह रावत को प्रदेश मंत्रिमंडल और भाजपा से रविवर को निष्कासित कर दिया था। इसके बाद प्रदेश में इस बात की चर्चा जोरों पर है कि देहरादून के रायपुर क्षेत्र से विधायक उमेश शर्मा काऊ, हरिद्वार के रुड़की से विधायक प्रदीप बत्रा और खानपुर के विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन भाजपा छोडकर कांग्रेस का दामन थाम सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: Harak Singh Rawat | उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री हरक सिंह भाजपा से निष्कासित, कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल

बहरहाल, हरिद्वार से लोकसभा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री निशंक ने संवाददाताओं द्वारा इस संबंध में सवाल पूछे जाने पर सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों में चल रही इन चर्चाओं को गलत बताया और कहा कि उनकी तीनों विधायकों से बात हुई है और तीनों ने कहा है कि ‘‘वे भाजपा में हैं और भाजपा में ही रहेंगे।’’ निशंक ने कहा कि विधायक स्वयं भी इन खबरों से आश्चर्यचकित हैं और मीडिया के माध्यम से अपना पक्ष रख रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस पर नकारात्मक राजनीति करने का आरोप लगाया और कहा कि ‘‘देश भर से इसी लिए उसे ठुकराया जा रहा है।’’ उन्होंने कहा कि राज्य में भी कांग्रेस जनता की लड़ाई के लड़ने के बजाय अपनों से ही लड़ाई में लगी हुई है। 

इसे भी पढ़ें: हरक सिंह रावत अपने परिवार के लोगों के लिए​ टिकट का दवाब बना रहे थे: धामी

हरक सिंह के पार्टी से निष्कासन के संबंध में सवाल पूछे जाने पर निशंक ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता आधारित दल है, लिहाजा किसी भी नेता के आने-जाने से पार्टी को कोई फर्क नहीं पड़ता। उन्होंने कहा कि भाजपा में हरेक कार्यकर्ता का सम्मान होता है और अन्य दलों की भांति यहां संभव नहीं है कि एक ही परिवार के तीन-तीन लोगों को टिकट देकर कार्यकर्ताओं की उपेक्षा की जाये। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में उत्तराखंड में विकास की धारा प्रवाहित हो रही है और केंद्र एवं राज्य सरकार के जनहित के कार्यों के दम पर भाजपा ‘‘इस बार 60 पार’’ के लक्ष्य को पूरा करेगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।