जामिया इलाके में फायरिंग करने वाला गोपाल कौन है ? जानें उसके बारे में सबकुछ

जामिया इलाके में फायरिंग करने वाला गोपाल कौन है ? जानें उसके बारे में सबकुछ

दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में कई दिनों से प्रदर्शन हो रहे हैं। इसी बीच गुरुवार को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि के मौके पर जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के छात्र राजघाट जाने वाले थे लेकिन इससे पहले ही एक युवक ने जामिया इलाके में फायरिंग की।

नयी दिल्ली। दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में कई दिनों से प्रदर्शन हो रहे हैं। इसी बीच गुरुवार को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि के मौके पर जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के छात्र राजघाट जाने वाले थे लेकिन इससे पहले ही एक युवक ने जामिया इलाके में फायरिंग की। इस फायरिंग में जामिया का एक छात्र जख्मी हो गया, जिसे पहले होली फैमिली अस्पताल ले जाया गया बाद में उसे ट्रामा सेंटर में शिफ्ट किया गया। जामिया का छात्र फिलहाल सुरक्षित है।

इसे भी पढ़ें: जामिया में CAA प्रोटेस्ट के दौरान फायरिंग, जख्मी युवक अस्पताल में भर्ती

कौन है फायरिंग करने वाला युवक ?

जामिया इलाके में फायरिंग करने वाले युवक का नाम गोपाल बताया जा रहा है। फिलहाल उसे न्यू फ्रैन्ड्स कालोनी के थाने में रखा गया है, जहां पर दिल्ली पुलिस पूछताछ कर रही है। जामिया इलाके में फायरिंग करने से पहले गोपाल ने जय श्री राम का नारा लगाया था और खुद को 'राम भक्त' बताता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फायरिंग करने वाला गोपाल दिल्ली से सटे हुए ग्रेटर नोएडा का निवासी है। बताया जा रहा है कि फायरिंग करने से पहले गोपाल कई बार फेसबुक पर लाइव आया था। 'रामभक्त गोपाल' के नाम से व्यक्ति ने अपना फेसबुक अकाउंट बनाया है।

इसे भी पढ़ें: जिन्ना वाली आजादी के नारे लगाना गद्दारी है: छात्रों के प्रदर्शनों पर बोले रामदेव

आपको बता दें कि 'गोपाल' जामिया मिलिया इस्लामिया का छात्र नहीं है। फायरिंग करने से पहले गोपाल ने अपने फेसबुक में लिखा कि 'शाहीन बाग, खेल खत्म हो गया'।

फायरिंग में जख्मी हुआ व्यक्ति कौन है ?

गोपाल द्वारा की गई फायरिंग में एक व्यक्ति जख्मी हुआ है। जिसे ट्रामा सेंटर ले जाया गया है। पहले तो व्यक्ति को होली फैमली अस्पताल ले जाया गया था जहां से उसे ट्रामा सेंटर शिफ्ट कर दिया गया और वह पूरी तरह से सुरक्षित है। मिली जानकारी के मुताबिक जख्मी व्यक्ति ने अपना नाम शाहाद बताया है। जो जामिया में मॉस कम्युनिकेशन की पढ़ाई कर रहा है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।