ED ने दिल्ली HC में दायर की याचिका, कहा- सत्येंद्र जैन की मेडिकल जांच LNJP अस्पताल की बजाए AIIMS में कराई जाए

Satyendra Jain
creative common
अभिनय आकाश । Jul 26, 2022 7:12PM
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अब दिल्ली उच्च न्यायालय का रुख किया है, जिसमें आप मंत्री सत्येंद्र जैन की मेडिकल जांच लोक नायक जय प्रकाश (एलएनजेपी) अस्पताल में न कराए जाने की मांग की है।

स्कूल भर्ती घोटाले के संबंध में गिरफ्तार पश्चिम बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी को इलाज के लिए पश्चिम बंगाल से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स)-भुवनेश्वर ले जाया गया। वहीं प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अब दिल्ली उच्च न्यायालय का रुख किया है, जिसमें आप मंत्री सत्येंद्र जैन की मेडिकल जांच लोक नायक जय प्रकाश (एलएनजेपी) अस्पताल में न कराए जाने की मांग की है। ईडी ने अपनी याचिका में कहा कि एलएनजेपी अस्पताल सीधे दिल्ली सरकार के नियंत्रण में है और संभावना है कि सत्येंद्र जैन की मेडिकल रिपोर्ट पक्षपातपूर्ण होगी।

इसे भी पढ़ें: मोदी सरकार पर बरसे हिरासत में लिए गए राहुल गांधी, बोले- देश के राजा का हुक्म है, जो सवाल पूछे उसे कारागृह में डाल दो

ईडी ने आगे कहा कि सत्येंद्र जैन बेहद प्रभावशाली हैं और उनका मेडिकल परीक्षण एम्स, आरएमएल या सफदरजंग अस्पताल के डॉक्टरों द्वारा किया जाना चाहिए। सत्येंद्र जैन को 15 जुलाई को एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके ऑक्सीजन स्तर में गिरावट के बाद उन्हें जून में भी एक बार भर्ती कराया गया था।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली नगर निगम के 6 अधिकारी निलंबित, दिल्ली के उपराज्यपाल ने दिया आदेश

57 वर्षीय जैन को प्रवर्तन निदेशालय ने 30 मई को धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) की आपराधिक धाराओं के तहत गिरफ्तार किया था। कथित हवाला सौदे के आरोप में पीएमएलए के तहत एजेंसी उसकी जांच कर रही है। अप्रैल में, ईडी ने जांच के तहत जैन के परिवार और उनके द्वारा "लाभदायक स्वामित्व वाली और नियंत्रित" कंपनियों से संबंधित 4.81 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की थी। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़