National Herald Case | सोनिया गांधी से ईडी फिर करेगी पूछताछ, कांग्रेस नेताओं के भारी विरोध के बीच पूछे जाएंगे सवाल

Sonia Gandhi
ANI
रेनू तिवारी । Jul 27, 2022 8:34AM
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा धनशोधन के एक मामले में की जा रही पूछताछ के खिलाफ पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को रायपुर में प्रदर्शन किया।

नेशनल हेराल्ड अखबार से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की उपस्थिति के दूसरे दिन छह घंटे से अधिक समय तक पूछताछ करने के एक दिन बाद, 75 वर्षीय को बुधवार को फिर से पेश होने के लिए कहा गया है। 

सोनिया गांधी को आज यानी 27 जुलाई को तीसरे दौर की पूछताछ के लिए तलब किया है। इससे पहले, केंद्रीय एजेंसी द्वारा गांधी से 6 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की गई, जिससे ईडी कार्यालय के बाहर कांग्रेस पार्टी द्वारा किए गए विरोध प्रदर्शनों की लहर दौड़ गई। विरोध प्रदर्शन के कारण सोनिया गांधी के बेटे राहुल गांधी सहित कई उल्लेखनीय कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने हिरासत में लिया था।

इसे भी पढ़ें: 5जी स्पेक्ट्रम नीलामी के पहले दिन 1.45 लाख करोड़ रुपये की बोलियां मिलीं

 कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा धनशोधन के एक मामले में की जा रही पूछताछ के खिलाफ पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को रायपुर में प्रदर्शन किया। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नीत केंद्र सरकार ने ईडी जैसी संस्थाओं का दुरुपयोग कर सोनिया गांधी की छवि को धूमिल करने की कथित तौर पर साजिश रची है। उन्होंने यहां गांधी मैदान में प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘ मैं आप सभी से अनुरोध करता हूं कि अगर हम निंदा प्रस्ताव लाते हैं, तो आप हाथ उठाकर उसे स्वीकार करें। हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली तानाशाही सरकार को उखाड़ फेकेंगे।

इसे भी पढ़ें: भारत 2025 के महिला एकदिवसीय क्रिकेट विश्वकप की मेजबानी करेगा

केंद्र सोनिया गांधी, राहुल गांधी और पूरे विपक्ष की आवाज को दबाना चाहता है।’’ गौरतलब है कि नेशनल हेराल्ड-एसोसिएटेड जनरल लिमिटेड मामले से जुड़े कथित धनशोधन के संबंध में ईडी ने मंगलवार को सोनिया गांधी से दूसरे दौर की पूछताछ की। ईडी ने उन्हें बुधवार को भी तलब किया है। मरकाम ने बेरोजगारी, महंगाई, कालेधन और अन्य मुद्दों पर मोदी सरकार पर तीखा हमला किया।

उन्होंने कहा, ‘‘लोग देख रहे हैं कि शाह और शहंशाह की जोड़ी देश को बेच रही है, जिसकी संपत्ति जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, मनमोहन सिंह और अन्य नेताओं ने बनाई थी।’’ मरकाम ने कहा, मोदी सरकार रेलवे स्टेशन, हवाई अड्डे, एलआईसी (जीवन बीमा निगम) और भारत पेट्रोलियम को बेच रही है।’’ उन्होंने किसी का नाम लिए बिना कहा,‘‘ शाह और शहंशाह बेच रहे हैं और दो लोग खरीद रहे हैं। सत्ता उनके हाथों में चली गई है, जो देश को बेचने में संलिप्त हैं।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़