हेराल्ड मामला: ईडी ने कांग्रेस नेता खड़गे से सात घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की

Herald
प्रतिरूप फोटो
ANI
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बृहस्पतिवार को यंग इंडियन के कार्यालय में छापेमारी की और नेशनल हेराल्ड मामले से जुड़ी धनशोधन जांच के तहत कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे से सात घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

नयी दिल्ली, 5 अगस्त। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बृहस्पतिवार को यंग इंडियन के कार्यालय में छापेमारी की और नेशनल हेराल्ड मामले से जुड़ी धनशोधन जांच के तहत कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे से सात घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। राज्यसभा में विपक्ष के नेता 80 वर्षीय खड़गे अपराह्न करीब 12 बजकर 40 मिनट पर आईटीओ के पास बहादुर शाह जफर मार्ग पर हेराल्ड हाउस भवन पहुंचे और ईडी के अधिकारियों से मिले।

ईडी ने उनके खिलाफ समन जारी किया था, क्योंकि जांच एजेंसी चाहती थी कि यंग इंडियन के कार्यालय पर छापेमारी के दौरान कंपनी के प्रमुख अधिकारी के तौर पर खड़गे मौजूद रहें। खड़गे को रात लगभग साढ़े आठ बजे अपने निजी स्टॉफ के सदस्यों के साथ इमारत से बाहर निकलते देखा गया। वरिष्ठ कांग्रेस नेता खड़गे ने जाते समय संवाददाताओं से कहा कि वह ‘‘बयान नहीं दे सकते क्योंकि यह एक जांच है।’’ यंग इंडियन के प्रवर्तकों और बड़े शेयर धारकों में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी भी शामिल हैं।

अपने बेटे की तरह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के पास भी कंपनी के 38 फीसदी शेयर हैं। हेराल्ड हाउस की चार मंजिला इमारत के प्रथम तल पर स्थित यंग इंडियन के एक कमरे के दफ्तर पर संघीय एंजेसी ने अस्थायी सील लगा दी थी ताकि सबूत सुरक्षित रहें। ताला लगे होनेऔर अधिकृत प्रतिनिधि के उपलब्ध नहीं होने के चलते एंजेसी पिछले दो दिनों से तलाशी नहीं ले सकी थी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पार्टी प्रवक्ता जयराम रमेश ने कहा कि खड़गे के खिलाफ कार्रवाई ‘‘उत्पीड़न के अलावा कुछ नहीं’’ है।

उन्होंने इसे ‘‘मोदी सरकार की राजनीतिक प्रतिशोध की कार्रवाई का चरम’’ बताया। नेशनल हेराल्ड समाचार पत्र और वेब पोर्टल का कार्यालय, जहां कि संपादकीय विभाग के कर्मचारी और प्रशासनिक विभाग के कर्मचारी बैठते हैं, हेराल्ड हाउस के चौथे तल पर स्थित है। नेशनल हेराल्ड समाचार पत्र का प्रकाशन एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) और इसका स्वामित्व रखने वाली कंपनी यंग इंडियन की ओर से किया जाता है। समाचार पत्र का कार्यालय एजीएल के नाम पर पंजीकृत है। इसके पहले ईडी ने मंगलवार को नेशनल हेराल्ड-एजीएल-यंग इंडियन सौदे से जुड़े धन शोधन जांच के मामले में हेराल्ड हाउस समेत दर्जनों स्थानों पर छापेमारी की थी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़