जीत के बाद भी हम लोग चैन से नहीं बैठे, अभी और आगे बढ़ना है: चौहान

even-after-winning-we-do-not-sit-in-peace-yet-we-have-to-move-further-chauhan
चौहान ने कहा कि छह जुलाई से सदस्यता अभियान प्रारंभ होकर 11 अगस्त तक चलेगा। संगठन का उद्देश्य है कि भाजपा सर्वस्पर्शी और सर्वव्यापी हो। कोई ऐसा बूथ नहीं होगा जहां भाजपा का सदस्य नहीं होगा।

लखनऊ। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं सदस्यता अभियान प्रमुख शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को कहा कि लोकसभा चुनाव में जीत के बाद अब उन राज्यों में भाजपा को मजबूत किया जाएगा जहां पार्टी की सरकार नहीं है। उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पाण्डेय के साथ संवाददाता सम्मेलन में चौहान ने कहा, ‘‘हमें अभी उन राज्यों में भारतीय जनता पार्टी को मजबूत करना है और वहां सरकार बनानी है जहां अभी हमारी सरकार नहीं है।’’ सदस्यता अभियान को लेकर हुई बैठक के बाद चौहान ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘भारतीय जनता पार्टी की जीत अभूतभूर्व है। इस जीत के बाद भी हम लोग चैन से नहीं बैठे हैं। अमित शाह ने कहा है कि अभी और आगे बढ़ना है। सर्वोच्च आना बाकी है।’’

इसे भी पढ़ें: कमलनाथ पर बरसे शिवराज, बोले- प्रदेश सरकार छीन रही आदिवासियों का हक

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ‘संगठन पर्व’ के तहत देशभर में सदस्यता अभियान चलाएगी। सर्वस्पर्शी और सर्वव्यापी भाजपा अभियान के तहत समाज के सभी वर्गों को जोड़ा जाएगा तथा सभी बूथों को मजबूत किया जाएगा। चौहान ने कहा कि छह जुलाई से सदस्यता अभियान प्रारंभ होकर 11 अगस्त तक चलेगा। संगठन का उद्देश्य है कि भाजपा सर्वस्पर्शी और सर्वव्यापी हो। कोई ऐसा बूथ नहीं होगा जहां भाजपा का सदस्य नहीं होगा। उन्होंने कहा कि मिस कॉल के साथ सदस्य बनेंगे लेकिन उनके साथ कार्यकर्ता मौजूद रहेंगे। स्टाल लगाकर भी सदस्यता अभियान चलेगा। इससे पहले चौहान और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पाण्डेय ने प्रदेश मुख्यालय में आयोजित सदस्‍यता कार्यशाला को संबोधित किया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़