भाजपा और NC के बीच याराना! उमर अब्दुल्ला बोले- राजनीतिक विरोधी दुश्मन नहीं होते

Omar Abdullah
ANI
अंकित सिंह । Sep 16, 2022 4:46PM
उमर अब्दुल्ला ने कहा कि क्या राजनीति विभाजन और नफरत के बारे में है? यह कौन कहता है कि राजनीतिक रूप से असहमत होने के लिए हमें व्यक्तिगत रूप से एक दूसरे से घृणा भी करनी होगी? उन्होंने साफ तौर पर कहा कि वह मेरे राजनीतिक विरोधी हैं, मेरे दुश्मन नहीं हैं।
श्रीनगर। जम्मू कश्मीर की सियासत में भाजपा और नेशनल कॉन्फ्रेंस एक दूसरे के धुर विरोधी हैं। अनुच्छेद 370 के खात्मे के बाद यह दूरी और भी बढ़ गई है। हालांकि, वह वक्त भी आया था जब नेशनल कांफ्रेंस और भाजपा एक साथ केंद्र की राजनीति मिले थे। एक बार फिर से इस बात की संभावना जताई जा रही है कि जम्मू कश्मीर में भाजपा और नेशनल कॉन्फ्रेंस एक साथ आ सकते हैं। इसको लेकर एक सोशल मीडिया पर वीडियो साझा किया गया है। इस वीडियो में जम्मू कश्मीर के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष रविंदर रैना पूर्व मुख्यमंत्री और कांफ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला की तारीफ कर रहे हैं। इसी के बाद से इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि दोनों दलों के बीच कोई खिचड़ी पक रही है। उमर अब्दुल्ला ने इस वीडियो को ट्वीट करते हुए भाजपा के साथ किसी भी याराना से इनकार कर दिया हैं।

इसे भी पढ़ें: महाराजा हरि सिंह की जयंती पर जम्मू-कश्मीर में होगा सार्वजनिक अवकाश, LG बोले- जल्द जारी होगा आदेश

उमर अब्दुल्ला ने साफ तौर पर कहा है कि राजनीतिक विरोधी दुश्मन नहीं होते। वीडियो पर अपनी प्रतिक्रिया रखते हुए उमर अब्दुल्ला ने यह भी कहा है कि सियासत में विभाजन और नफरत की जगह नहीं होती। दरअसल, वीडियो में भाजपा और नेशनल कांफ्रेंस के बीच गुप्त समझौते की ओर इशारा किया गया है। उमर अब्दुल्ला के बारे में बात करते हुए रविंदर रैना ने साफ तौर पर उन्हें जम्मू-कश्मीर के शीर्ष नेताओं में रत्न की तरह बताया है। इस वीडियो में अपने बयान में रविंदर रैना यह कहते सुने जा रहे हैं कि जब मैं विधानसभा सदस्य बना तो उमर भी वहां थे। हमने देखा कि एक व्यक्ति के रूप में उमर अब्दुल्ला जम्मू कश्मीर के शीर्ष नेताओं में रत्न की तरह हैं। इसलिए हम मित्र भी हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जब वह कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे तो सबसे पहले अब्दुल्ला ने उन्हें फोन कर हालचाल पूछा था। 

इसे भी पढ़ें: UNHRC में पाकिस्तान ने छेड़ा कश्मीर राग, भारत बोला- आतंक की फैक्ट्री चलाने वालों का मानवाधिकार पर चिंता जताना छलावा

इसी को लेकर उमर अब्दुल्ला ने कहा कि क्या राजनीति विभाजन और नफरत के बारे में है? यह कौन कहता है कि राजनीतिक रूप से असहमत होने के लिए हमें व्यक्तिगत रूप से एक दूसरे से घृणा भी करनी होगी? उन्होंने साफ तौर पर कहा कि वह मेरे राजनीतिक विरोधी हैं, मेरे दुश्मन नहीं हैं। नेशनल कांफ्रेंस ने कहा कि मैं रविंदर के दयालु शब्दों के लिए आभारी हूं और मुझे खुशी है कि वे हमें एक-दूसरे का विरोध करने से नहीं रोकेंगे। उमर अब्दुल्ला जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके हैं। वह वरिष्ठ नेता फारूक अब्दुल्ला के बेटे हैं। वही, रविंदर रैना प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष हैं और आक्रमक नेता के तौर पर अपनी पहचान रखते हैं। अटल बिहारी वाजपेयी से प्रभावित होकर वह राजनीति में आए थे। 

अन्य न्यूज़