उन्नाव में दर्दनाक सड़क हादसे में पांच लोगों की मौत, मुख्यमंत्री ने किया सहायता का ऐलान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 28, 2021   09:11
उन्नाव में दर्दनाक सड़क हादसे में पांच लोगों की मौत, मुख्यमंत्री ने किया सहायता का ऐलान

उन्नाव जिले के फतेहपुर-84 क्षेत्र में सड़क हादसे में एक ही परिवार के तीन सदस्यों समेत पांच लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए मृतकों के परिवार को दो-दो लाख रुपये तथा घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता का ऐलान किया है।

उन्नाव/लखनऊ। उन्नाव जिले के फतेहपुर-84 क्षेत्र में सड़क हादसे में एक ही परिवार के तीन सदस्यों समेत पांच लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए मृतकों के परिवार को दो-दो लाख रुपये तथा घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता का ऐलान किया है। पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी ने बताया कि फतेहपुर चैरासी थाना क्षेत्र के कालीमिट्टी दबौली मार्ग पर कस्बे में तेज रफ्तार अनियंत्रित जीप ने दो मोटरसाइकिल और एक साइकिल में टक्कर मार दी और फिर एक पेड़ से टकराकर सड़क किनारे गड्ढे में जा गिरी। घटना में एक ही परिवार के तीन सदस्यों समेत कुल पांच लोगों की मौत हो गई।

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल में बिजली गिरने और भारी बारिश की घटनाओं में पांच लोगों की मौत

गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को जिला अस्पताल भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि इस घटना में रितिक (पांच), राकेश (35), राजाराम (65) और आशीष (25) की मौके पर ही मौत हो गई जबकि सौरभ (35) ने अस्पताल ले जाते समय रास्ते में ही दम तोड़ दिया। पुलिस अधीक्षक आंनद कुलकर्णी और जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने जिला अस्पताल पहुंचकर घायलों का हाल लिया।

इसे भी पढ़ें: कोरोना, चक्रवात पीड़ितों की मदद के लिए भाजपा की महाराष्ट्र इकाई ने शुरू किया ‘पांचवां स्तंभ’

इस बीच, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस दुर्घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया। उन्होंने हादसे में मारे गए लोगों के परिवार को दो-दो लाख रुपये तथा घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता का ऐलान किया है। उन्होंने अधिकारियों को घायलों के समुचित उपचार की व्यवस्था करने का भी निर्देश दिया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।