पाक को करारा तमाचा, करतारपुर गलियारे के उद्घाटन समारोह में शामिल नहीं होंगे पूर्व PM

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 30, 2019   19:32
पाक को करारा तमाचा, करतारपुर गलियारे के उद्घाटन समारोह में शामिल नहीं होंगे पूर्व PM

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने सोमवार को इसकी जानकारी दी। यह कॉरिडोर करतारपुर स्थित दरबार साहिब को पंजाब के गुरदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक से जोड़ेगा जिससे भारतीय श्रद्धालु वीजा मुक्त आवाजाही कर सकेंगे।

नयी दिल्ली। पाकिस्तान ने करतारपुर गलियारे के उद्घाटन समारोह में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को आमंत्रित करने का फैसला किया है, लेकिन सूत्रों का कहना है कि सिंह के इस कार्यक्रम में शामिल होने की कोई संभावना नहीं है। पूर्व प्रधानमंत्री के करीबी सूत्रों का कहना है कि सिंह के पाकिस्तान जाने की संभावना नहीं है क्योंकि वह 10 साल तक प्रधानमंत्री रहते हुए भी कभी इस पड़ोसी देश नहीं गए।

दरअसल, पाकिस्तान ने नवंबर में होने वाले करतारपुर गलियारे के उद्घाटन समारोह में सिंह को आमंत्रित करने का फैसला किया है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने सोमवार को इसकी जानकारी दी। यह कॉरिडोर करतारपुर स्थित दरबार साहिब को पंजाब के गुरदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक से जोड़ेगा जिससे भारतीय श्रद्धालु वीजा मुक्त आवाजाही कर सकेंगे। करतारपुर जाने वाले श्रद्धालुओं को केवल परमिट लेना होगा । भारतीय सिख श्रद्धालुओं के लिए पाकिस्तान इस कॉरिडोर को नौ नवंबर को खोलेगा।

इसे भी पढ़ें: करतारपुर पर पाक का मनमोहन प्यार, कांग्रेस को होगा स्वीकार?

कुरैशी ने एक टीवी चैनल को बताया, ‘‘करतारपुर गलियारे का उद्घाटन एक बड़ा कार्यक्रम है पाकिस्तान इसकी जोर-शोर से तैयारी कर रहा है। हमने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को इसमें बुलाने का निर्णय किया है। हम जल्दी ही इस बारे में उन्हें एक औपचारिक पत्र भेजेंगे।’’ उन्होंने कहा कि सिंह, सिख समुदाय का प्रतिनिधित्व करते हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।