मुलायम के गांव से अखिलेश के संसदीय क्षेत्र तक, 30 दिन में 18 मंडल का दौरा, योगी ने लिया बीमारी का पूरा ब्यौरा

मुलायम के गांव से अखिलेश के संसदीय क्षेत्र तक, 30 दिन में 18 मंडल का दौरा, योगी ने लिया बीमारी का पूरा ब्यौरा

सीएम योगी ने तीस दिन में 18 मंडल का दौरा कर 75 जिलों में महामारी से लड़ने की तैयारियों का खाका खींच दिया। आपदा में शायद ही किसी सीएम ने सूबे के हर जिले का ऐसा दौरा किया हो और जमीन पर जाकर महामारी का जायजा लिया हो।

महाराष्ट्र के बाद अगर कोरोना ने किसी राज्य में तबाही मचाई तो वो उत्तर प्रदेश था। जहां हर रोज आंकड़े डरा रहे थे। शमशान की तस्वीरें रूंह कंपा रही थी। जब जब पूरा प्रदेश कोरोना के कहर से त्राहिमाम कर रहा था, सारी व्यवस्था ध्वस्त हो रही थी। तब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खुद मोर्चा संभाला औऱ 30 अप्रैल से निकल पड़े प्रदेश का चप्पा-चप्पा नापने। सीएम योगी ने तीस दिन में 18 मंडल का दौरा कर 75 जिलों में महामारी से लड़ने की तैयारियों का खाका खींच दिया। आपदा में शायद ही किसी सीएम ने सूबे के हर जिले का ऐसा दौरा किया हो और जमीन पर जाकर महामारी का जायजा लिया हो। 

30 दिन में योगी ने किया तूफानी दौरा

16 मई- नोएडा, गाजियाबाद, मेरठ

22 मई- इटावा, कानपुर, सैफई

23 मई-बांदा, झांसी

24 मई- आजमगढ़, गोंडा, वाराणसी

25 मई- गोरखपुर, मिर्जापुर

26 मई- देवरिया, बस्ती

इसे भी पढ़ें: उन्नाव में दर्दनाक सड़क हादसे में पांच लोगों की मौत, मुख्यमंत्री ने किया सहायता का ऐलान

तैयारियों का खींचा खाका

  • ऑक्सीजन की किल्लत को खत्म करने के लिए ऑक्सीजन प्लांट शुरू किए। 
  • अस्पतालों में बेड की संख्या को बढ़ाया।
  • बाजारों में दवाओँ की कालाबाजारी पर अंकुश लगाया। 
  • भारी कमी के बाद भी युद्धस्तर पर प्रदेश भर में वैक्सीनेशन का कार्यक्रम चलाया। 
  •  इन जिलों में सैफई और अलीगढ़ जैसे जिले भी शामिल हैं, जिन्हें बीजेपी के विरोधियों का गढ़ कहा जाता है।

पिछले चार हफ्तों से मुख्यमंत्री लगातार फील्ड में ही नजर आ रहे हैं। कभी वो वाराणसी पहुंच जाते हैं तो कभी गोरखपुर पहुंच जाते हैं। बस्ती, सिद्धार्थनगर, मिर्जापुर हर जगह मुख्यमंत्री गए। इन जिलों में सैफई और अलीगढ़ जैसे जिले में भी शामिल रहे, जिन्हें बीजेपी के विरोधियों का गढ़ भी कहा जाता है। सीएम योगी ने मुलायम सिंह यादव के गांव सैफई का भी दौरा किया और समाजवादियों के गढ़ कहे जाने वाले इटावा में भी इलाज की समुचित व्यवस्था करने के लिए अफसरों को निर्देश देते दिखें। इसके अलावा सीएम योगी अखिलेश के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ का भी दौरा किया। 






नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।