मंदसौर शहर में बनेगा गैस संचालित शवदाह गृह

मंदसौर शहर में बनेगा गैस संचालित शवदाह गृह
प्रतिरूप फोटो

सिंधी समाज द्वारा 5 लाख रूपये की राशि का चेक कलेक्टर कार्यालय में विधायक यशपाल सिंह सिसौदिया की उपस्थिति में कलेक्टर को भेंट किया। साथ ही 3 लाख रूपये गैस आधारित शवदाह गृह हेतु राशि भेंट की गई। इस तरह कुल 8 लाख रूपये मुक्तिधाम हेतु प्रशासन को दिए गए है।

मंदसौर। मध्य प्रदेश के मंदसौर शहर में जल्द ही गैस विद्युत शवदाह गृह स्थापित होने जा रहा है। आयुक्त उज्जैन संभाग ने बताया कि प्रमुख सचिव मध्य प्रदेश शासन नगरीय विकास एवं आवास विभाग के द्वारा एक लाख से अधिक जनसंख्या वाले शहरों में गैस विद्युत शवदाह गृह स्थापित करने के निर्देश दिए थे।

 

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल की हिंसा पर समग्र हिंदू समाज उज्जैन ने राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया

जिसके तहत मंदसौर शहर में जनभागीदारी योजना अंतर्गत 46 लाख 83 हजार 578 रुपए की प्रशासकीय वित्तिय स्वीकृति जारी हुई है। इसमें जन सहयोग से 23 लाख 42 हजार 578 रुपए एवं शासन का अंशदान 23 लाख 41 हजार रुपए है। कुल 46 लाख 83 हजार 578 रुपये की राशि क्रियान्वयन एजेंसी मुख्य नगर पालिका अधिकारी मंदसौर को दी गई है।

 

इसे भी पढ़ें: छेड़छाड़ से तंग आकर नाबालिग ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, तीन पर केस दर्ज

जिसमें सिंधी समाज द्वारा विधायक यशपाल सिंह सिसौदिया एवं कलेक्टर मनोज पुष्प के मार्गदर्शन में जनभागीदारी अंतर्गत स्थानीय मुक्तिधाम के सम्पूर्ण विकास व सौंदर्यीकरण की योजना के लिए सिंधी समाज द्वारा  5 लाख रूपये की राशि का चेक कलेक्टर कार्यालय में विधायक यशपाल सिंह सिसौदिया की उपस्थिति में कलेक्टर को भेंट किया। साथ ही  3 लाख रूपये गैस आधारित शवदाह गृह हेतु राशि भेंट की गई। इस तरह कुल  8 लाख रूपये मुक्तिधाम हेतु प्रशासन को दिए गए है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...