PM के साथ बैठक में बोले गहलोत, राजस्थान में हर दिन हो रही हैं 30,000 से अधिक जांच

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 24, 2020   14:25
PM के साथ बैठक में बोले गहलोत, राजस्थान में हर दिन हो रही हैं 30,000 से अधिक जांच

गहलोत ने संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए राज्य सरकार द्वारा उठाए गए पटाखों पर प्रतिबंध, मास्क पहनना अनिवार्य करने के लिए कानून, कई शहरों में रात्रिकालीन कर्फ्यूव जागरूकता के लिए जन आंदोलन जैसे कदमों की जानकारी भी इस वीडियो कान्फ्रेंस में दी।

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंगलवार को कहा कि राज्य सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण महामारी के बीच चिकित्सा बुनियादी ढांचे को लगातार मजबूत किया है और इस समय राज्य में हर दिन कोरोना की 30,000 से अधिक जांच हो रही हैं। गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मुख्यमंत्रियों के साथ आनलाइन संवाद में यह बात कही। उन्होंने कहा कि राज्य में सितंबर अक्तूबर में हर दिन कोरोना की 18,000 जांच हो रही थी। इस क्षमता को अब बढाकर 30,000 से अधिक कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना की शत प्रतिशत जांच आरटी पीसीआर से हो रही हैं जो कि जांच की विश्वसनीय विधि है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने चिकित्सा स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने पर ध्यान दिया है जिसके तहत आक्सीजन संयंत्र लगाना, आक्सीजन पाइपलाइन बिछाना, आईसीयू व आक्सीजन सुविधा वाले बेड की संख्या बढ़ाना शामिल है। गहलोत ने संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए राज्य सरकार द्वारा उठाए गए पटाखों पर प्रतिबंध, मास्क पहनना अनिवार्य करने के लिए कानून, कई शहरों में रात्रिकालीन कर्फ्यूव जागरूकता के लिए जन आंदोलन जैसे कदमों की जानकारी भी इस वीडियो कान्फ्रेंस में दी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।