गोवा में मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच है, मतदाताओं के सामने विकल्प साफ : चिदंबरम

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 17, 2022   10:38
गोवा में मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच है, मतदाताओं के सामने विकल्प साफ : चिदंबरम

गोवा विधानसभा चुनाव में मुकाबला भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के बीच है होने का जिक्र करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने उनके इस आकलन की “पुष्टि” कर दी है कि आम आदमी पार्टी (आप) और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) केवल गैर-भाजपा मतों को “विभाजित” करेंगे।

नयी दिल्ली। गोवा विधानसभा चुनाव में मुकाबला भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के बीच है होने का जिक्र करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने उनके इस आकलन की “पुष्टि” कर दी है कि आम आदमी पार्टी (आप) और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) केवल गैर-भाजपा मतों को “विभाजित” करेंगे। उनकी यह टिप्पणी आप के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल की उस टिप्पणी के एक दिन बाद आई है कि अगर गोवा में 14 फरवरी के विधानसभा चुनाव में खंडित जनादेश आता है तो उनकी पार्टी गठबंधन सरकार का हिस्सा बनने के लिए तैयार है।

इसे भी पढ़ें: WEF में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन, दावोस शिखर सम्मेलन में कोरोना समेत वैश्विक चुनौतियों पर हो सकती है बात

गोवा विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ चुनाव पर्यवेक्षक चिदंबरम ने गोवा के मतदाताओं से शासन में बदलाव के लिए वोट डालने और कांग्रेस को चुनने की अपील की। उन्होंने कहा, “मेरा आकलन कि आप (और टीएमसी) गोवा में गैर-भाजपा वोटों को केवल खंडित करेंगे, इसकी अरविंद केजरीवाल ने पुष्टि कर दी है। गोवा में मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच है।” चिदंबरम ने सिलसिलेवार ढंग से ट्वीट करते हुए कहा, “जो लोग शासन बदलना चाहते हैं (10 वर्षों के कुशासन के बाद) वे कांग्रेस को वोट करेंगे।

इसे भी पढ़ें: हिमाचल में बीएड कॉलेजों के निरीक्षण की एवज में एनसीटीई में चल रहा फर्जीवाड़ा

जो इसी शासन को जारी रखना चाहते हैं, वे भाजपा को वोट करेंगे।” उन्होंने कहा कि गोवा में मतदाताओं के सामने विकल्प साफ है। कांग्रेस नेता ने पूछा कि आप लोग शासन में बदलाव चाहते हैं या नहीं। चिदंबरम ने कहा, “मैं गोवा के मतदाताओं से शासन बदलने और कांग्रेस को वोट देने की अपील करता हूं।” गोवा में विधानसभा की सभी 40 सीटों पर मतदान 14 फरवरी को होना है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।