सरकार पहले ही राज्य में रेत और ट्रांसपोर्ट माफिया पर नकेल डाल चुकी है और आगे बारी केबल माफिया की चन्नी

सरकार पहले ही राज्य में रेत और ट्रांसपोर्ट माफिया पर नकेल डाल चुकी है और आगे बारी केबल माफिया की चन्नी

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार पहले ही राज्य में रेत और ट्रांसपोर्ट माफिया पर नकेल डाल चुकी है और आगे बारी केबल माफिया की है। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि केबल माफिया बादल परिवार के हाथों में खेलता है जो लोगों से मोटी दरें वसूल रहा है और इस माफिया पर जल्द ही नकेल डाली जायेगी।

चंडीगढ। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की तरफ से राज्य के हितों को नुकसान पहुँचाने के लिए अकालियों और भाजपा के साथ मिलीभुगत करने की सख़्त आलोचना की।यहां आज रैली को संबोधन करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर ने अपने कार्यकाल के दौरान पंजाब के हितों को खतरे में डाल कर बादल परिवार और मोदी के हितों की रक्षा की है।

 

बंगा में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री ने चन्नी ने कहा कि पंजाब के लोग जानते हैं कि पूरे उत्तरी क्षेत्र की अपेक्षा पंजाब में पेट्रोल और डीज़ल सबसे सस्ता है और इसी तरह बिजली के रेट भी पूरे देश की अपेक्षा सबसे सस्ते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार पहले ही राज्य में रेत और ट्रांसपोर्ट माफिया पर नकेल डाल चुकी है और आगे बारी केबल माफिया की है। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि केबल माफिया बादल परिवार के हाथों में खेलता है जो लोगों से मोटी दरें वसूल रहा है और इस माफिया पर जल्द ही नकेल डाली जायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह भाग्यशाली हैं कि कांग्रेस लीडरशिप ने उनको राज्य की सेवा करने के लिए यह सौभाग्यशाली मौका दिया है।

इसे भी पढ़ें: गिलजियां द्वारा निर्माण कामगारों की सुविधा के लिए ‘पंजाब रजिस्टर्ड निर्माण कामगार सेवाएं’ मोबाइल ऐप लाँच

उन्होंने कहा कि वह राज्य के हर आम आदमी को पेश समस्याओं के हल के लिए काम कर रहे हैं। उनकी सरकार की तरफ से शुरु की गईं कई लोक-हितैषी पहलकदमियों बारे बताते हुए उन्होंने कहा कि बिजली के बिलों के 1500 करोड़ रुपए के बकाए माफ किये गए, घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बिजली दरें 3 रुपए प्रति यूनिट घटाई गईं, ग्रामीण क्षेत्रों में मोटरों के बिल के सम्बन्ध में 1200 करोड़ रुपए माफ किये गए, पानी के खर्चे घटाकर 50 रुपए किये, रेत का रेट घटाकर 5.50 रुपए प्रति क्यूबिक फुट कर दिए गए हैं और गन्नो की बढ़ी 50 रुपए प्रति क्विंटल की कीमतों में से पंजाब सरकार द्वारा 35 रु. कोस्ट शेयरिंग के हिस्से के तौर पर हैं। जबकि प्राईवेट मीलों को अब सिर्फ़ 15 रुपए का बोझ ही वहन करना पड़ रहा है। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि सिर्फ़ यही नहीं बल्कि आने वाले दिनों में भी कई और महत्वपूर्ण फ़ैसले लिए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों को राहत देने के लिए उनकी सरकार की तरफ से लिए गए सभी फ़ैसलों को तुरंत लागू किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि विपक्ष बिना किसी मुद्दे के बेबुनियाद दोष लगा रहा है। श्री चन्नी ने कहा कि सरकार के इन लोक-हितैषी फ़ैसलों से लोगों को फ़ायदा हो रहा है।

इसे भी पढ़ें: राधास्वामी सत्संग ब्यास ने ज़मीन दान की और लोगों की सुविधा के लिए अत्याधुनिक कम्पलेक्स का निर्माण किया

उन्होंने कहा कि इसी कारण कांग्रेसी विधायकों ने एकजुट होकर उनको मुख्यमंत्री की कुर्सी से एक तरफ़ कर दिया है। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह की तरफ से बनाई गई नयी पार्टी का मंतव्य भी अकालियों और भाजपा को फ़ायदा पहुंचाना और राज्य को बर्बाद करना है।अकालियों पर अनुसूचित जातियों के हितों को नजरअन्दाज करने का दोष लगाते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि अकालियों का बसपा के साथ नापाक गठजोड़ है और उनको जानबुझ कर कमज़ोर सीटें अलाट की हैं। 

इसे भी पढ़ें: सुखजिन्दर सिंह रंधावा और परगट सिंह द्वारा लोक गायिका गुरमीत बावा के देहांत पर गहरा दुख प्रकट

उन्होंने कहा कि इन सीटों पर जीत से अकाली भाजपा को लाभ पहुंचाएंगे। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि इस गठजोड़ का मुख्य मंतव्य यह यकीनी बनाना है कि एस.सी. भाईचारे के हितों को नुकसान पहुँचाया जाये।दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की तरफ निशाना साधते हुये मुख्यमंत्री ने उनको अफ़वाहें फैलाने वाला बताया जिसको राज्य के हितों की बिल्कुल भी चिंता नहीं है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सिर्फ़ खोखले वायदे कर रहा है जबकि उन (चन्नी) की सरकार लोगों को बेहतर प्रशासन प्रदान कर रही है। 

मुख्यमंत्री चन्नी ने लोगों को केजरीवाल एंड कंपनी के बड़े-बड़े दावों से गुमराह होने से बचने के लिए कहा। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि पार्टी स्तर से बाहर जाकर कुछ राजनीतिज्ञों की तरफ से किये नापाक गठजोड़ ने पंजाब को लूटने के लिए आम आदमी से सत्ता छीन ली है। उन्होंने कहा कि इस ग्रुप के सदस्यों का अपने आत्म स्वार्थों के लिए राज्य को लूटने के रूप में आपसी सम्बन्ध है। उन्होंने दोष लगाया कि वह सत्ता के लालच में ऐसा कर रहे हैं जहाँ हर पाँच साल बाद शासक बदलता है परन्तु सत्ता उनके हाथों में रहती है। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि अब यह गठजोड़ टूट गया है और सत्ता आम आदमी के पास है।

अपने संबोधन में कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री ने पंजाब के लोगों की भलाई और तरक्की के लिए कई पहलकदमियां की हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को राज्य और यहाँ के लोगों की विशेष चिंता है। राणा गुरजीत सिंह ने मुख्यमंत्री चन्नी को असली ‘आम आदमी’ बताया जो लोगों के लिए हमेशा उपस्थित रहते हैं और लोगों की चिंता करते हैं। उन्होंने दोआबा क्षेत्र के लिए विशेष पैकेज की भी माँग की।इस मौके पर दूसरों के अलावा कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह, विधायक श्री अंगद सिंह और श्री दर्शन लाल मंगूपुर, पंजाब के पूर्व मंत्री और पंजाब ऐग्रो इंडस्ट्रीज कार्पोरेशन के चेयरमैन श्री जोगिन्द्र सिंह मान, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री हुस्न लाल, पूर्व विधायक तरलोचन सिंह सूंढ और मोहन सिंह बंगा, ज़िला योजना समिति के चेयरमैन सतबीर सिंह पल्ली झिक्की, डिप्टी कमिश्नर श्री विशेष सारंगल, सीनियर पुलिस कप्तान श्रीमती कंवरदीप कौर और अन्य गणमान्य मौजूद थे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।