सरकार ने अंतरिक्ष में ‘चौकीदार’ तैनात करने के लिए कदम उठाए हैं: मोदी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 29, 2019   14:04
सरकार ने अंतरिक्ष में ‘चौकीदार’ तैनात करने के लिए कदम उठाए हैं: मोदी

प्रधानमंत्री ने अंतरिक्ष के क्षेत्र की इस उपलब्धि को ‘‘कम आंकने’’ वाले विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘जो लोग उपग्रह भेदी तकनीक की आलोचना कर रहे हैं, उन्हें चुनाव में उचित जवाब दिया जाएगा।’’

जयपुर (ओडिशा)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि उनकी सरकार ने अंतरिक्ष में ‘चौकीदार’ तैनात करने के लिए कदम उठाए हैं। साथ ही उन्होंने लोगों से अपील की कि वे ऐसी सरकार के लिए मतदान करें जो केवल नारेबाजी नहीं करे बल्कि ठोस फैसले कर सके। प्रधानमंत्री ने ओडिशा में कोरापुट जिले के जयपुर इलाके में एक रैली के साथ हीपूर्वी भारत में चुनाव प्रचार मुहिम शुरू करते हुए कहा कि राजग सरकार लोगों के समर्थन के बिना देश में कोई विकास कार्य नहीं कर पाती।

उन्होंने 2019 लोकसभा चुनाव के लिए अपने समर्थकों का आशीर्वाद मांगा और जोर देकर कहा कि राजग सरकार ने राज्य में विकास करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी। मोदी ने कहा, ‘‘पिछले पांच साल में सरकार ने आठ लाख परिवारों के लिए मकान बनाए हैं, 3000 घरों में बिजली पहुंचाई है और 40 लाख घरों को गैस कनेक्शन मुहैया कराया है।’’ प्रधानमंत्री ने ‘मिशन शक्ति’ का जिक्र करते हुए कहा कि सरकार ने अंतरिक्ष में ‘चौकीदार’ तैनात करने के लिए कदम उठाए हैं।

इसे भी पढ़ें: ओडिशा में बोले नरेंद्र मोदी, आपको अच्छी सरकार देगी भाजपा

‘मिशन शक्ति’ के तहत भारत ने एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराकर अपनी उपग्रह भेदी मिसाइल क्षमता का प्रदर्शन किया। प्रधानमंत्री ने अंतरिक्ष के क्षेत्र की इस उपलब्धि को ‘‘कम आंकने’’ वाले विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘जो लोग उपग्रह भेदी तकनीक की आलोचना कर रहे हैं, उन्हें चुनाव में उचित जवाब दिया जाएगा।’’ उन्होंने लोगों से अपील की कि वे ऐसी सरकार के लिए मतदान करें जो केवल नारेबाजी करने के बजाए ठोस निर्णय ले सके।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।