हरीश रावत की सरकार में घपले, घोटाले, भ्रष्टाचार, स्टिंग आपरेशन थे: अमित शाह

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 29, 2022   13:56
हरीश रावत की सरकार में घपले, घोटाले, भ्रष्टाचार, स्टिंग आपरेशन थे: अमित शाह

भाजपा की पांच साल की सरकार पर भ्रष्टाचार का एक आरोप विपक्ष भी नहीं लगा पाया।’’ उन्होंने कहा कि 2014 और 2019 के लोकसभा चुनावों में और 2017 के विधानसभा चुनावों में उत्तराखंड की जनता ने दिल खोलकर भाजपा को आशीर्वाद दिया।

देहरादून। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उत्तराखंड की पूर्ववर्ती हरीश रावत सरकार को ‘‘घपलों, घोटालों, भ्रष्टाचार और स्टिंग आपरेशन’’ की सरकार बताते हुए शुक्रवार को कहा कि राज्य की भाजपा सरकार के पांच साल के कार्यकाल में विपक्ष भी उस पर भ्रष्टाचार का एक आरोप नहीं लगा पाया। प्रदेश में 14 फरवरी को होने वाले मतदान से पहले रूद्रप्रयाग में भाजपा जिला कार्यालय में रूद्रप्रयाग, श्रीनगर, कर्णप्रयाग, बदरीनाथ, केदारनाथ और थराली विधानसभा क्षेत्रों से डिजिटल तरीके से जुडे भूतपूर्व सैनिकों को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, ‘‘आपने कांग्रेस की सरकार देखी, (हरीश) रावत जी की सरकार देखी, कितने घपले, घोटाले, भ्रष्टाचार और स्टिंग ऑपरेशन थे।

इसे भी पढ़ें: PM मोदी ने NCC रैली में पहनी सिख पगड़ी, गणतंत्र दिवस पर पहना था उत्तराखंड और मणिपुर का परिधान

भाजपा की पांच साल की सरकार पर भ्रष्टाचार का एक आरोप विपक्ष भी नहीं लगा पाया।’’ उन्होंने कहा कि 2014 और 2019 के लोकसभा चुनावों में और 2017 के विधानसभा चुनावों में उत्तराखंड की जनता ने दिल खोलकर भाजपा को आशीर्वाद दिया। उन्होंने कहा, ‘‘आपने हमारा काम देखा है। अब आपको एक बार फिर पांच साल के सुशासन के लिए भाजपा को वोट देना है जिससे यहां चल रही बड़ी परियोजनाएं पूरी हो सकें।’’ गृह मंत्री ने कहा कि उत्तराखंड के सैनिक लद्दाख से लेकर कच्छ तक बहुत वीरता और समर्पण के साथ देश की सीमाओं की रक्षा कर रहे हैं लेकिन अब लोकतंत्र के मोर्चे पर भी उन्हें वहीं समर्पण दिखाना होगा। चारधाम की ‘आल वेदर’ (हर मौसम में खुली रहने वाली) सड़क परियोजना, ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना, केदारनाथ पुनर्निर्माण और बदरीनाथ मास्टर प्लान जैसी बड़ी परियोजनाओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इन सभी परियोजनाओं में महत्वपूर्ण प्रगति हो चुकी है लेकिन इन्हें पूरा करने के लिए जनता को भाजपा को एक और कार्यकाल के लिए चुनना होगा।

इसे भी पढ़ें: भाजपा को झटका, पूर्व विधायक ओम गोपाल रावत कांग्रेस में हुए शामिल

शाह ने उत्तराखंड के सपूत दिवंगत जनरल बिपिन रावत को याद करते हुए कहा कि सेना प्रमुख और देश के पहले रक्षा प्रमुख अध्यक्ष (सीडीएस) के रूप में उनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि जनरल रावत ने सैन्य बलों के आधुनिकीकरण के लिए एक कार्ययोजना बनाई थी जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लागू कर रहे हैं। गृह मंत्री ने कहा कि कांग्रेस की सरकार में 2013-14 में देश का रक्षा बजट दो लाख करोड़ रुपये था ​जो केंद्र की मोदी सरकार के समय में 2020-21 में बढ़कर चार लाख 78 हजार रुपये हो गया है। उन्होंने राज्य की जनता से युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में अगले पांच साल तक एक अच्छी और गति से काम करने वाली पारदर्शी सरकार देने का वादा भी किया। इससे पहले, शाह ने रूद्रप्रयाग में जनसंपर्क करके लोगों से भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में मतदान का अनुरोध किया। उन्होंने रूद्रप्रयाग बाजार में घूम-घूमकर दुकानदारों तथा लोगों के बीच केंद्र और राज्य सरकार की उपलब्धियों बताने वाले पर्चे भी बांटे। जनसंपर्क और चुनावी बैठकें करने से पहले शाह ने स्थानीय रूद्रनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना भी की।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।