• मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल सहित कई जिलों में तेज बारिश

दिनेश शुक्ल Jun 08, 2021 22:24

मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बना है। इसके बढऩे के साथ ही मध्य प्रदेश में दो दिशाओं से मानसून के प्रवेश करने की संभावना बढ़ गई है। उधर मौजूदा स्थिति में वातावरण में लगातार नमी मिल रही है।

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में मंगलवार को शाम से देर रात तक बारिश ने तरबतर कर दिया, जबकि प्रदेश के कटनी, छिंदवाड़ा और देवास समेत कई हिस्सों में जोरदार बारिश हुई। मौसम विभाग ने अगले चौबीस घंटों के दौरान प्रदेश के कई हिस्सों में गरज चमक के साथ तेज बारिश का अलर्ट जारी किया है। केरल सहित दक्षिण भारत में मानसून दस्तक दे चुका है। यही वजह है कि मध्य प्रदेश में भी पिछले एक सप्‍ताह से प्री-मानसून गतिविधियों के चलते लगातार बारिश का दौर जारी है।

 

इसे भी पढ़ें: संबल योजना में तेंदूपत्ता संग्राहकों के पंजीयन के निर्देश जारी

बता दें कि देश के हिस्‍सों में प्री मानसून की गतिविधि तेज हो गई है जिसके चलते प्रदेश के मौसम में तेजी से बदलाव देखने को मिल रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में भी मानसूनी हलचत तेज हो गई है। यही कारण के सूबे के जिलों में पिछले एक सप्‍ताह से बारिश का दौर बना हुआ है। मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बना है। इसके बढऩे के साथ ही मध्य प्रदेश में दो दिशाओं से मानसून के प्रवेश करने की संभावना बढ़ गई है। उधर मौजूदा स्थिति में वातावरण में लगातार नमी मिल रही है। जिसके चलते राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के कई जिलों में बारिश हुई है। 

 

इसे भी पढ़ें: अंकुर कार्यक्रम के लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में राज्य स्तरीय समिति गठित

मौसम विभाग के अनुसार सोमवार तक प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश हुई। इसमें इंदौर में 22.6 एमएम, शाजापुर में 9.0 एमएम, भोपाल में 6.2 एमएम, खजुराहो में 2.8 एमएम, रायसेन में 6.4 एमएम, भोपाल सिटी 16.2 एमएम और जबलपुर और उज्जैन में बूंदाबांदी दर्ज की गई। मौसम विभाग के अनुसार राजधानी भोपाल सहित होशंगाबाद ,ग्वालियर, चंबल और इंदौर संभाग, सागर संभाग और जबलपुर संभाग के कुछ जिलों में गरज चमक के तेज बारिश होने का अलर्ट जारी किया गया है। केरल सहित दक्षिण भारत में मानसून दस्तक दे चुका है। ऐसे में माना जा रहा है कि 20 जून तक मध्य प्रदेश में भी मानसून दस्तक दे देगा। ऐसे में प्रदेश में प्री मानसून का दौर शुरू हो गया है।