मैं तो एक्टिंग में शिवराज जी का मुकाबला नहीं कर सकता- कमलनाथ

Kamal Nath
दिनेश शुक्ल । Oct 28, 2020 1:45PM
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि भाजपा सरकार में मध्य प्रदेश की पहचान माफिया-मिलावटखोरों से थी, जिसके कारण कोई औद्योगिकरण नहीं हुआ, 5 प्रदेशों से हमारे प्रदेश घिरा रहने के बाद भी मैन्युफैक्चरिंग का केंद्र नहीं बन सका। कृषि क्षेत्र चौपट हो गई।

ग्वालियर। मैं तो एक्टिंग में शिवराज जी का मुकाबला नहीं कर सकता। मैं तो शिवराज से कहता हूं कि आप तो सिर्फ यह बता दीजिए जनता को कि पिछले 7 माह में आपने कैसे सौदेबाजी की, कैसे बोली लगाई ? मैं प्रदेश की जनता से अपील करता हूं कि कांग्रेस का साथ भले मत देना, कमलनाथ का साथ भले मत देना लेकिन सच्चाई का साथ ज़रूर देना। 03 तारीख के बाद किसान भी यही रहेंगे, नौजवान भी यही रहेंगे और आपके साथ कमलनाथ भी यही रहेगा, हम सब मिलकर प्रदेश का एक नया इतिहास बनायेंगे, ग्वालियर की एक नई पहचान बनायेंगे, प्रदेश की नई पहचान बनायेंगे, कृषि क्षेत्र में क्रांति लाएंगे, युवाओं को रोजगार देंगे। चंबल का खून गर्म है, इसमें बगावत है लेकिन ये गद्दारी बर्दाश्त नहीं कर सकता है। आप सबको प्रदेश को कलंकित होने से बचाना है, मध्य प्रदेश के सम्मान की रक्षा करना है। मंगलवार को ग्वालियर पूर्व से कांग्रेस प्रत्याशी सतीश सिकरवार के समर्थन में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए यह बात पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कही।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस का आरोप ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कब्जा कर बेंची 500 करोड़ की जमीन

उन्होंने कहा कि आज ग्वालियर चंबल आजादी की सांस ले रहा है। आज हमारे सामने युवाओं के भविष्य की चुनौती है, भाजपा सरकार में युवाओं का भविष्य अंधेरे में है, यही युवा मध्य प्रदेश का नव निर्माण करेंगे, इनका भविष्य कैसे सुरक्षित रहे, इसका हमें आज फैसला करना है। 15 सालों में शिवराज सरकार में कुछ हुआ तो सबसे ज्यादा मजदूरों का उत्पादन वाला प्रदेश, हमारा मध्य प्रदेश बना, भाजपा सरकार में जितने उद्योग लगे नहीं, उससे ज्यादा बंद हो गए। आज चंबल के मालनपुर की हालत देखें, शराब उद्योग के रूप में तब्दील हो चुका है। आज हमें उन लोगों को पहचानना होगा जिनके कारण ग्वालियर-चंबल विकास की दृष्टि से पिछड़ा है, इसके जिम्मेदार कौन लोग हैं ? 15 वर्ष शिवराज जी की सरकार रही, कई महाराज यहाँ रहे लेकिन फिर भी ग्वालियर-चंबल क्षेत्र विकास की दृष्टि से पिछड गया। 

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि भाजपा सरकार में मध्य प्रदेश की पहचान माफिया-मिलावटखोरों से थी, जिसके कारण कोई औद्योगिकरण नहीं हुआ, 5 प्रदेशों से हमारे प्रदेश घिरा रहने के बाद भी मैन्युफैक्चरिंग का केंद्र नहीं बन सका। कृषि क्षेत्र चौपट हो गई। आज हमें प्रदेश का नव निर्माण करना है, जिससे कृषि क्षेत्र में मजबूत आ सके, किसानों को न्याय मिले, उन्हें उनकी उपज का सही मूल्य मिले, युवाओं को रोजगार मिले।

इसे भी पढ़ें: गरीबों का हक छीनने वाले सबसे बड़े गद्दार, इन्हें धूल चटाता रहूंगाः ज्योतिरादित्य सिंधिया

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि मैं भी चाहता तो सौदेबाजी की राजनीति कर सकता था, मैं तो मुख्यमंत्री था। आपने मेरी सरकार वोट से बनायी, भाजपा ने नोट से सरकार बनायी। भाजपा ने ना सिर्फ ग्वालियर चंबल को देशभर में कलंकित किया बल्कि मध्य प्रदेश की राजनीति को भी देशभर में बिकाऊ बनाकर कलंकित किया। इनका बस चले तो नगर निगम और पंचायत में भी चुनाव नहीं कराएंगे, बोली बोल कर पार्षदों, सरपंचों को चुन लेंगे। जनता तो कहती थी कि किसान बिना दाम के, नौजवान बिना काम के तो शिवराज जी आप किस काम के ? शिवराज जी आप सिर्फ़ झूठी घोषणाए ही करते हैं, झूठे नारियल फोड़ते है, कहते हैं कि मैं तो चुनाव बाद झोला लेकर चले जाऊंगा, मैं तो टेंपरेरी मुख्यमंत्री हूं तो शिवराज जी आप सुन लीजिए, आपको जो लेकर जाना हो चले जाना, जनता आपको पहचानती है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़