छात्रों से बोले दिल्ली के शिक्षा निदेशक, अगर जवाब नहीं आता तो परीक्षा में कुछ भी लिख दो

Student
कक्षा 12वीं के छात्रों से बातचीत के दौरान शिक्षा निदेशक उदित राय ने कहा कि सीबीएसई से कहा गया है कि अगर छात्र अपनी उत्तर पुस्तिकाओं में कुछ लिखते हैं, तो उन्हें अंक दें।

नयी दिल्ली। दिल्ली के शिक्षा निदेशक उदित राय बृहस्पतिवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आने के बाद विवाद में घिर गए जिसमें वह एक सरकारी स्कूल में छात्रों से परीक्षा के दौरान किसी भी तरह उत्तर पुस्तिकाएं भरने और उन्हें खाली ना छोड़ने के लिए कह रहे हैं। कक्षा 12वीं के छात्रों से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) से कहा गया है कि अगर छात्र अपनी उत्तर पुस्तिकाओं में कुछ लिखते हैं, तो उन्हें अंक दें। कांग्रेस और भाजपा ने इस वीडियो को लेकर दिल्ली सरकार पर निशाना साधा जबकि वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों ने कहा कि राय की टिप्पणियों को संदर्भ से बाहर ले जाया गया है। वीडियो में राय कक्षा 12 के छात्रों को उत्तर पुस्तिकाएं भरने का निर्देश देते हुए नजर आ रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: जम्मू में 11 महीने बाद फिर खुले स्कूल, बच्चों के चेहरों पर लौटी रौनक 

उन्होंने कहा, “यदि आप जवाब नहीं जानते हैं, तो कुछ भी लिखें। उत्तर पुस्तिकाओं में प्रश्नों को उत्तर की जगह लिख दें लेकिन उत्तर पुस्तिका को खाली न छोड़ें। हमने आपके शिक्षकों से बात की है और उन्होंने कहा है कि वे आपको अंक देंगे बशर्ते उत्तर पुस्तिकाओं में कुछ लिखा हो। हमने सीबीएसई से यह भी कहा है कि अगर कोई बच्चा कुछ लिखता है तो उन्हें अंक दिया जाना चाहिए।” बार-बार कोशिश करने के बावजूद राय ने वीडियो पर कोई टिप्पणी नहीं की। सीबीएसई अधिकारियों ने भी इस पर टिप्पणी करने से इनकार करते हुए कहा कि शिक्षा विभाग ही वीडियो के “संदर्भ” के बारे में बता सकता है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़