सिक्किम में भारत-चीन के सैनिकों के बीच हुई झड़प, भारतीय सेना ने खदेड़ा, PLA के 20 सैनिक जख्मी

सिक्किम में भारत-चीन के सैनिकों के बीच हुई झड़प, भारतीय सेना ने खदेड़ा, PLA के 20 सैनिक जख्मी

बताया जा रहा है कि चीनी सैनिक भारतीय इलाके की तरफ बढ़ने की कोशिश कर रहे थे। जिसके बाद भारतीय सैनिकों ने उन्हें खदेड़ा। वहीं, इस झड़प में चीन की पीएलए के 20 सैनिक जख्मी हो गए।

नयी दिल्ली। वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चीन ने एक बार फिर से यथास्थिति को बदलने की कोशिश की। सिक्किम के ना कूला में तीन दिन पहले भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प हुई है। बताया जा रहा है कि चीनी सैनिक भारतीय इलाके की तरफ बढ़ने की कोशिश कर रहे थे। जिसके बाद भारतीय सैनिकों ने उन्हें खदेड़ा। वहीं, इस झड़प में चीन की पीएलए के 20 सैनिक जख्मी हो गए।

तीन दिन पहले हुई इस झड़प में भारतीय सेना के 4 और चीन की पीएलए के 20 जवान जख्मी हो गए थे। यह झड़प तनाव कम करने के लिए सैन्य स्तर पर हुई 9वें दौर की वार्ता से पहले हुई।   

इसे भी पढ़ें: पूर्वी लद्दाख गतिरोध को कम करने के लिए 16 घंटे तक चली भारत-चीन के बीच बैठक बेनतीजा 

भारत-चीन सीमा विवाद उस वक्त बढ़ गया था जब 15-16 जून को पीएलए की झड़प में भारतीय सेना के 20 जवानों की मौत हो गई थी। हालांकि, मीडिया रिपोर्ट्स में चीनी सैनिकों के भी मारे जाने की खबरें थी लेकिन चीन ने इससे इनकार कर दिया था।

16 घंटे तक तनाव कम करने के लिए हुई बातचीत

उल्लेखनीय है कि भारत और चीन की सेनाओं के बीच 9वें दौर की वार्ता में पूर्वी लद्दाख में गतिरोध वाले बिंदुओं से सैनिकों को हटाने पर करीब 16 घंटे तक विस्तृत चर्चा हुई। सूत्रों ने बताया कि कोर कमांडर स्तर की वार्ता रविवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे शुरू हुई और यह सोमवार तड़के करीब ढाई बजे खत्म हुई। पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीन की तरफ मोल्दो में यह बैठक हुई। बैठक के नतीजों के बारे में पता नहीं चल पाया है।   





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।