कश्मीर में दहशत बरकरार, खुफिया एजेंसियां कहती हैं जैश फिर बोलेगा हमला!

कश्मीर में दहशत बरकरार, खुफिया एजेंसियां कहती हैं जैश फिर बोलेगा हमला!

केंद्रीय खुफिया एजेंसियों के मुताबिक, इस बार जैश-ए-मुहम्मद ने सुरक्षाकर्मियों को निशाना बनाने के लिए आम वाहन का इस्तेमाल करने की योजना बनाई हैं।

जम्मू। कश्मीर दहशत में है। दहशत का कारण केंद्रीय खुफिया एजेंसियों की वह चेतावनी है जिसमें वे कहते हैं कि जैश-ए-मुहम्मद एक बार फिर कश्मीर को जबरदस्त तरीके से निशाना बनाने की तैयारी में है। उनका कहना है कि जैश पुलवामा हमले से कई गुणा बड़ा हमला करने की फिराक में है और यह अगले कुछ दिनों में किसी भी समय हो सकता है। फिलहाल राज्य पुलिस और गुप्तचर एजेंसियों के अधिकारी इस चेतावनी पर खामोशी अख्तियार किए हुए हैं।

केंद्रीय खुफिया एजेंसियों के मुताबिक, इस बार जैश-ए-मुहम्मद ने सुरक्षाकर्मियों को निशाना बनाने के लिए आम वाहन का इस्तेमाल करने की योजना बनाई हैं। हमले में आतंकी पिछली बार की तुलना में बड़ा आईईडी ब्लॉस्ट को अंजाम देना चाहते हैं। उनका दावा है कि सोशल मीडिया में वायरल हो रहे पोस्टों को जब डिकोड किया गया तो यह जानकारी प्राप्त हुई। इनके मुताबिक आतंकी इस बार पुलवामा से भी बड़ा हमला करने की कोशिश में लगे हुए हैं।

इसे भी पढ़ें: खुफिया एजेंसियों का घाटी में अलर्ट, पुलवामा से बड़े आतंकी हमले की फिराक में है जैश

खुफिया एजेंसियों ने अलर्ट जारी किया है। खुफिया सूत्रों की मानें तो जैश-ए-मुहम्मद पुलवामा से भी बड़ा हमला कर सकता है, ये हमला अगले दो से तीन दिनों के भीतर ही हो सकता है। जिसके लिए गाड़ी भी तैयार कर ली गई है। खुफिया एजेंसियों को जो इनपुट मिले हैं उसके अनुसार उत्तरी कश्मीर में चौकीबल और टंगधार में आईईडी ब्लास्ट के जरिए हमला करने की साजिश रची जा रही है। 

पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों के परिवारों के जख्म अभी भरे भी नहीं हैं कि एक और नया खतरा सामने आ गया है। ताजा इनपुट मिलने के बाद खुफिया एजेंसियों ने सुरक्षाबलों को चौकन्ना रहने को कहा है। उनके दावों के अनुसार, जैश के आतंकियों द्वारा एक गाड़ी को तैयार कर लिया गया है, जिसके जरिए आईईडी ब्लास्ट कर एक बार फिर सुरक्षाबलों के काफिले को निशाना बनाया जा सके। वे कहते हैं कि इस हमले के लिए एक हरे रंग की स्कॉर्पियो गाड़ी को तैयार किया गया है ताकि एक बार फिर पुलवामा की तरह फिदायीन हमला किया जाए।

इसे भी पढ़ें: सेना को सौंपा गया बनिहाल से उड़ी तक का हाईवे, हवाई सुविधा भी हुई बहाल

खुफिया एजेंसियों ने आतंकवादियों से मिला जो मैसेज डिकोड किया है उसके अनुसार पिछले हमले में 200 किलोग्राम विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया था, लेकिन इस हमले में 500 किग्रा विस्फोटक का इस्तेमाल किया जा सकता है। इस संदेश में कहा गया है कि सेना को कश्मीरियों को निशाना बंद करना बंद करना चाहिए। ये जंग हमारे यानी जैश और सेना के बीच है, हम लड़ने के लिए तैयार हैं। 

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जैश ने अबू बकर नामक आतंकी को नया कमांडर बनाया है। अबू बकर ने पिछले साल ही पाक कब्जे वाले कश्मीर से घुसपैठ की थी। उसे इस आप्रेशन का जिम्मा सौंपा गया है। यह बात अलग है कि इस मामले पर राज्य पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों तथा अन्य गुप्तचर एजेंसियों की खामोशी कश्मीरियों को दहशतजदा जरूर कर रही है क्योंकि ये अधिकारी न ही इस चेतावनी की पुष्टि करते थे और न ही खंडन।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...