ISRO Chief S Somnath ने मंदिरों में पुस्तकालय स्थापित करने की हिमायत की

ISRO Chairman S Somnath
प्रतिरूप फोटो
ANI

केरल की राजधानी स्थित श्री उदियानूर देवी मंदिर द्वारा शुरूआत किये गए एक पुरस्कार ग्रहण करने के बाद सोमनाथ ने कहा कि मंदिर केवल ऐसे स्थान नहीं होने चाहिए जहां बुजुर्ग भगवान का नाम जपने के लिए आएं, बल्कि इसे समाज में परिवर्तन लाने का स्थान भी बनना चाहिए। उन्होंने मंदिर प्रबंधन से युवाओं को मंदिरों के प्रति आकृष्ट करने का आग्रह किया

तिरुवनंतपुरम। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष एस सोमनाथ ने मंदिरों में पुस्तकालय स्थापित करने की हिमायत करते हुए शनिवार को कहा कि इस तरह की पहल युवाओं को उपासना स्थलों पर लाने में मदद करेगी। केरल की राजधानी स्थित श्री उदियानूर देवी मंदिर द्वारा शुरूआत किये गए एक पुरस्कार ग्रहण करने के बाद सोमनाथ ने कहा कि मंदिर केवल ऐसे स्थान नहीं होने चाहिए जहां बुजुर्ग भगवान का नाम जपने के लिए आएं, बल्कि इसे समाज में परिवर्तन लाने का स्थान भी बनना चाहिए। उन्होंने मंदिर प्रबंधन से युवाओं को मंदिरों के प्रति आकृष्ट करने का आग्रह किया। 

इसे भी पढ़ें: सरकारी गोपनीयता अधिनियम का उल्लंघन करने के आरोप में पूर्व पुलिस अधिकारी गिरफ्तार

उन्होंने इसरो के पूर्व अध्यक्ष जी. माधवन नायर से पुरस्कार प्राप्त करने के बाद कहा, मुझे उम्मीद थी कि इस पुरस्कार वितरण समारोह में बड़ी संख्या में युवा आएंगे, लेकिन उनकी संख्या काफी कम है। मंदिर प्रबंधन को उन्हें मंदिरों के प्रति आकृष्ट करने की दिशा में काम करना चाहिए। मंदिरों में पुस्तकालय क्यों नहीं बनाए जाएं? सोमनाथ ने कहा कि इस तरह की पहल से युवाओं को मंदिरों के प्रति आकर्षित करने में मदद मिलेगी, जहां वे अध्ययन कर सकते हैं, शाम में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा कर सकते हैं और अपने करियर को आगे बढ़ा सकते हैं। उन्होंने कहा, अगर मंदिर प्रबंधन इस दिशा में काम करेगा तो इससे बड़े बदलाव आएंगे। समारोह में शामिल होने वाले गणमान्य व्यक्तियों में पूर्व मुख्य सचिव के. जयकुमार और विधायक वी. के. प्रशांत भी शामिल थे।

डिस्क्लेमर: प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


We're now on WhatsApp. Click to join.
All the updates here:

अन्य न्यूज़