जामिया फायरिंग के लिए डी राजा ने भाजपा को ठहराया जिम्मेदार, बोले- ये भड़काऊ बयान का नतीजा है

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 30, 2020   17:41
जामिया फायरिंग के लिए डी राजा ने भाजपा को ठहराया जिम्मेदार, बोले- ये भड़काऊ बयान का नतीजा है

भाकपा महासचिव डी राजा ने बृहस्पितवार को जामिया मिल्लिया इस्लामिया के पास हुई गोलीबारी की घटना को दिल्ली विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा नेताओं की कथित भड़काऊ टिप्पणियों का सीधा नतीजा करार दिया। राजा ने‘कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि यह घटना महात्मा गांधी की पुण्यतिथि को हुई।

नयी दिल्ली। भाकपा महासचिव डी राजा ने बृहस्पितवार को जामिया मिल्लिया इस्लामिया के पास हुई गोलीबारी की घटना को दिल्ली विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा नेताओं की कथित भड़काऊ टिप्पणियों का सीधा नतीजा करार दिया। राजा ने‘कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि यह घटना महात्मा गांधी की पुण्यतिथि को हुई। उन्होंने कहा, ‘‘जामिया की घटना दिल्ली में चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा नेताओं की ओर से दिए गए भड़काऊ बयान का नतीजा है। भाजपा नेता अनुराग ठाकुर को भीड़ से गद्दारों को गोली मारने का आह्वान करने के लिए गिरफ्तार किया जाना चाहिए।’’

इसे भी पढ़ें: जामिया में हुई फायरिंग के बाद बोलीं प्रियंका, भड़काऊ भाषण देंगे तब ये सब होना मुमकिन है

उल्लेखनीय है कि बृहस्पतिवार को जामिया मिल्लिया इस्लामिया का छात्र उस समय घायल हो गया जब एक व्यक्ति ने प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाते हुए नारा लगाया कि ‘‘यह लो आजादी’’। इसकी वजह से इलाके में अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया। सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर गोली चलाने वाले इस शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया है लेकिन अभी उसकी पहचान किया जाना बाकी है। निर्वाचन आयोग ने विवादास्पद टिप्पणियों के लिए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर को दिल्ली विधानसभा चुनाव में प्रचार से तीन दिन के लिए और सांसद प्रवेश वर्मा को चार दिन के लिए रोक दिया है।

इसे भी देखें: दिल्ली की राजनीति में अहम है नंबर 3, क्या शाहीन बाग फेरेगा पानी ?





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।