जापान ने किया मध्य प्रदेश रतलाम के रहने वाले कवि सतीश जोशी को सम्मानित

जापान ने किया मध्य प्रदेश रतलाम के रहने वाले कवि सतीश जोशी को सम्मानित

जापान द्वारा इस वर्ष कुल तीन साहित्यकारों को अभिनंदन पत्र भेजा गया। सतीश जोशी हिंदी साहित्य परिषद के अध्यक्ष हैं। हिंदी भाषा के प्रचार प्रसार के लिए वह 13 देशों की यात्रा कर चुके हैं तथा विश्व हिंदी साहित्य सम्मेलन में भी भाग ले चुके हैं।

रतलाम। मध्य प्रदेश में रतलाम जिले के नगरा गांव के कवि सतीश जोशी को उनके  साहित्यिक उपलब्धि एवं चित्रकारिता पर जापान हिंदी सांस्कृतिक केन्द्र की महासभा, जापान द्वारा इस वर्ष कुल तीन साहित्यकारों को अभिनंदन पत्र भेजा गया। सतीश जोशी हिंदी साहित्य परिषद के अध्यक्ष हैं। हिंदी भाषा के प्रचार प्रसार के लिए वह 13 देशों की यात्रा कर चुके हैं तथा विश्व हिंदी साहित्य सम्मेलन में भी भाग ले चुके हैं। 

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में अनलॉक प्रक्रिया के लिए बनेगी मंत्रियों की समिति, मुख्यमंत्री बोले 1 जून से प्रक्रिया होगी प्रारंभ

जापान हिंदी सांस्कृतिक केन्द्र की महासभा द्वारा उन्हें प्रमाण पत्र भेजा गया है। जिसमें लिखा गया है कि आप जापान हिंदी संस्कृति केंद्र की प्रेरणा के प्रति समर्पित रहे हैं। इन वर्षों में, उन्होंने इस केंद्र के सुधार में बहुत बड़ा योगदान दिया है। जापान हिंदी संस्कृति केंद्र की 2021 की महासभा, मैं अपना आभार व्यक्त करना चाहता है और आपको उत्कृष्ट कृति के सदस्य के रूप में आधार बनाना चाहता हूं। सतीश जोशी को मिले सम्मान पर साहित्यकार प्रणयेश जैन, डॉ. शोभना तिवारी, डॉ.खूशबू जांगलवा, आशीष दशोत्तर, डॉ.मोहन प्रकाश हेमावत, रामचंद्र गहलोत ने शुभकामनाएं दी है। वही  श्रीमती माया जोशी, चन्द्रशेखर जोशी, बंटी जोशी, ज्योत्स्ना पाठक, रश्मि पंडित आदि ने भी बधाइयां दी है।  





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।