जेपी नड्डा 100 बिस्तरों वाले अस्पताल का किया उद्घाटन, स्वास्थ्य क्षेत्र में मोदी सरकार की उपलब्धियों का किया बखान

JPNadda
ANI
अंकित सिंह । Sep 30, 2022 1:10PM
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि लोगों को निवारक स्वास्थ्य जांच तक पहुंच होगी। हम एक ही छत के नीचे सभी प्रकार की दवा प्रणालियों को बढ़ावा दे रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि पिछले 8 वर्षों से, ओडिशा में कई मेडिकल कॉलेज फल-फूल रहे हैं, जहाँ एक भी मेडिकल कॉलेज खोलना एक बड़ी बात थी।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ओडिशा दौरे पर है। उन्होंने कटक में SVNIRTAR में 100 बिस्तरों वाले अस्पताल का उद्घाटन किया। अपने संबोधन में नड्डा ने कहा कि सदी की सबसे बड़ी महामारी ने दुनिया को तहस-नहस कर दिया। सरकार के सहयोग से और वैज्ञानिकों को प्रोत्साहित करके, हमने भारत में दो टीके बनाए, जिससे भारत की आत्मानिर्भरता साबित हुई। उन्होंने कहा कहा कि जब COVID के दौरान लॉकडाउन लगाया गया था, तब हमारे पास एक भी पीपीई किट नहीं था; कोई आइसोलेशन बेड नहीं था और कोई केंद्र नहीं था। और महज 2.5 महीने के अंदर पीएम नरेंद्र मोदी ने भारत को पीपीई किट का निर्यातक बना दिया।

इसे भी पढ़ें: BJP ने गुजरात, हिमाचल के साथ ही अगले साल होने वाले सभी विधानसभा चुनावों की भी रणनीति बना ली

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि लोगों को निवारक स्वास्थ्य जांच तक पहुंच होगी। हम एक ही छत के नीचे सभी प्रकार की दवा प्रणालियों को बढ़ावा दे रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि पिछले 8 वर्षों से, ओडिशा में कई मेडिकल कॉलेज फल-फूल रहे हैं, जहाँ एक भी मेडिकल कॉलेज खोलना एक बड़ी बात थी। हमारी सरकार के योगदान के प्रयास ऐसे ही रहे हैं। नड्डा ने कहा कि कालाहांडी जिले में मेडिकल कॉलेज होने के बारे में किसी ने नहीं सोचा होगा। हालाँकि, अब हमारे यहाँ एक मेडिकल कॉलेज है, जो इसे ओडिशा राज्य में एक आगे का जिला बनाता है। उन्होंने कहा कि पहले हमारे पास विकलांगों की केवल सात श्रेणियां थीं और अब 21 हैं। आज रेलवे और हवाई अड्डों पर दिव्यांगजनों के लिए सुविधाएं हैं।

इसे भी पढ़ें: 'भाजपा दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी', जेपी नड्डा बोले- हम मानवता और समाज सेवा के सिद्धांतों पर चलते हैं

इससे पहले जेपी नड्डा ने ओडिशा के भद्रक में स्वर्गीय विष्णु सेठी को श्रद्धांजलि ही। उन्होंने कहा कि विष्णु सेठी जी गरीबों की चिंता करने वाले व्यक्ति थे। गरीबों के हमदर्द थे। समाज में सभी को बराबर देखने की उनकी शक्ति थी। उन्होंने कहा कि इस क्षति की पूर्ति समाज के लिए, परिवार के लिए, पार्टी के लिए और प्रदेश के लिए करना बहुत कठिन है। विष्णु जी एक बहुआयामी प्रतिभा के धनी थे। सामाजिक जीवन उन्होंने विचार के लिए जिया था। नड्डा ने कहा कि विष्णु सेठी जी का मध्यआयु में देहांत हो जाना हम सबको द्रवित करता है। जो कार्य वो कर रहे थे, उनका जो सपना अधूरा रह गया, यह हम सबके लिए दुख की बात है।

अन्य न्यूज़