येदियुरप्पा के बयान पर बरसी कांग्रेस, पूछा- यह देशप्रेम है या मूर्खतापूर्ण राजनीति है?

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 28, 2019   14:43
येदियुरप्पा के बयान पर बरसी कांग्रेस, पूछा-  यह देशप्रेम है या मूर्खतापूर्ण राजनीति है?

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भाजपा के वरिष्ठ नेता येदियुरप्पा के कथित बयान का हवाला देते हुए ट्वीट किया कि प्रिय मोदी जी/जेटली जी, राजनीतिकरण को लेकर अब और कुछ कहने को रह गया है?

नयी दिल्ली। पाकिस्तान में आतंकी ठिकाने पर वायुसेना की कार्रवाई का लोकसभा चुनाव में लाभ होने संबंधी बीएस येदियुरप्पा के कथित बयान पर कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को भाजपा एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और सवाल किया कि यह जवानों के पराक्रम का ‘राजनीतिकरण’ करने का प्रयास है या नहीं। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भाजपा के वरिष्ठ नेता येदियुरप्पा के कथित बयान का हवाला देते हुए ट्वीट किया, ‘प्रिय मोदी जी/जेटली जी, राजनीतिकरण को लेकर अब और कुछ कहने को रह गया है?’

इसे भी पढ़ें: वायुसेना के अलावा किसी को भी नहीं लेना चाहिए हवाई हमले का श्रेय: शिवसेना

येदियुरप्पा के कथित बयान को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने सवाल किया कि क्या यह देशप्रेम है या मूर्खतापूर्ण राजनीति है? खबरों के मुताबिक येदियुरप्पा ने बुधवार को कर्नाटक के चित्रदुर्ग में संवाददाताओं कहा कि पाकिस्तान के भीतर घुसकर आतंकी शिविरों को बर्बाद करने के कदम से देश में मोदी के समर्थन में लहर बनी है और इसका नतीजा आगामी लोकसभा चुनाव में नजर आ सकता है। इसने नौजवानों में जोश भर दिया है। इससे हमें (कर्नाटक में) लोकसभा की 22 से ज्यादा सीटें जीतने में मदद मिलेगी।

इसे भी पढ़ें: भारत ने पाक से की विंग कमांडर को फौरन लौटाने की मांग, उच्चायुक्त को भी किया तलब

इससे पहले, कांग्रेस सहित 21 विपक्षी दलों ने बुधवार को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में सशस्त्र बलों के साथ एकजुटता प्रकट की थी, हालांकि भाजपा पर आरोप लगाया था कि उसके नेता पुलवामा हमले के बाद जवानों की शहादत का ‘राजनीतिकरण’ कर रहे हैं। इस पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पलटवार करते हुए कहा था कि विपक्षी दलों को आत्मचिंतन करना चाहिए क्योंकि उनकी ‘गलतबयानी’ का इस्तेमाल पाकिस्तान अपना पक्ष मजबूत करने के लिए कर रहा है। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।