सूरत रोड शो से पहले अरविंद केजरीवाल की सुरक्षा कम की गई: सूत्रों का दावा

Arvind Kejriwal
एक सूत्र ने दावा किया, ‘‘गुजरात निकाय चुनावों में आम आदमी पार्टी के प्रभावशाली प्रदर्शन के दो दिन बाद भाजपा नेतृत्व के इशारे पर यह कदम उठाया गया है।’’

नयी दिल्ली। गुजरात के सूरत में एक रोडशो से एक दिन पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सुरक्षा कथित रूप से कम कर दी गई है। आप सरकार के सूत्रों ने बृहस्पतिवार को यह आरोप लगाया, हालांकि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इससे इनकार किया है। दिल्ली पुलिस के संयुक्त आयुक्त (सुरक्षा) आई डी शुक्ला ने कहा कि केजरीवाल के पास जेड प्लस सुरक्षा है और ‘पूर्ण जेड प्लस’ सुरक्षा बनायी रखी जा रही है। उधर एक सूत्र ने दावा किया, ‘‘गुजरात निकाय चुनावों में आम आदमी पार्टी के प्रभावशाली प्रदर्शन के दो दिन बाद भाजपा नेतृत्व के इशारे पर यह कदम उठाया गया है।’’ 

इसे भी पढ़ें: दिल्ली सरकार छह महीने के भीतर अपनी कारों को इलेक्ट्रिक वाहनों में तब्दील करेगी: सिसोदिया 

सूत्रों ने आरोप लगाया कि केजरीवाल की सुरक्षा में लगे दिल्ली पुलिस के कमांडो की संख्या छह से घटाकर दो कर दी गई है। बहरहाल, गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया गया है। पुलिस के अनुसार केजरीवाल को जेड प्लस सुरक्षा दी गयी है जिसके तहत एक पायलट, एक एस्कॉर्ट, एक करीबी सुरक्षा दल, एक हाउस गार्ड, तथा सादी वर्दी में 47 सुरक्षा कर्मी तलाशी एवं अन्य कार्य के वास्ते होते हैं तथा सीआरपीएफ के 16 कर्मी भी उनकी सुरक्षा में होते हैं। पुलिस के अनुसार मुख्यमंत्री के सुरक्षा कवर में कोई बदलाव नहीं किया गया है तथा सुरक्षाकर्मी घटाये भी नहीं गये हैं। 

इसे भी पढ़ें: केजरीवाल का दावा, AAP एकमात्र पार्टी जो भाजपा को दे रही है चुनौती 

पुलिस ने कहा कि छह कमांडों में से चार प्रशासनिक कारणों से बदले गये हैं और यह सामान्य प्रक्रिया है। इस बीच आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने केंद्र से केजरीवाल के सुरक्षा कवर में कमी करने के ‘ओछे निर्णय’ पर सफाई मांगी है। गुजरात के सूरत में नगर निकाय चुनावों में आप ने 27 सीटों पर जीत दर्ज की जहां शुक्रवार को पार्टी के संयोजक एक रोडशो में हिस्सा लेंगे। केजरीवाल ने इस जीत को गुजरात में नयी राजनीति की शुरुआत बताया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़